Asianet News HindiAsianet News Hindi

जम्मू और कश्मीर घाटी में स्वतंत्रता दिवस के बाद 1-1 जिले में ट्रायल के तौर पर शुरू होगी 4G इंटरनेट सेवा

केंद्र सरकार ने 15 अगस्त से जम्मू और कश्मीर घाटी के 1-1 जिले में  4G इंटरनेट सेवा शुरू करने का ऐलान किया है। हालांकि, यह सेवा ट्रायल के तौर पर शुरू की जाएगी। जम्मू कश्मीर में पिछले साल 4 अगस्त से 4G इंटरनेट सेवा पर रोक है। 

4G internet to be allowed on trial basis in 1 district each in Jammu and Kashmir from August 16 KPP
Author
New Delhi, First Published Aug 11, 2020, 11:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने स्वतंत्रता दिवस के बाद जम्मू और कश्मीर घाटी के 1-1 जिले में  4G इंटरनेट सेवा शुरू करने का ऐलान किया है। हालांकि, यह सेवा ट्रायल के तौर पर शुरू की जाएगी। जम्मू कश्मीर में पिछले साल 5 अगस्त से 4G इंटरनेट सेवा पर रोक है। केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लेने के लिए प्रस्ताव पेश किया था। 

जम्मू कश्मीर में 4G सेवा शुरू करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई गई है। इसके जवाब में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि समिति इस बात पर विचार कर रही है कि जम्मू और कश्मीर के एक एक जिले में इंटरनेट सेवा शुरू की जाए या नहीं। 4G इंटरनेट सेवा 15 अगस्त के बाद शुरू की जा सकती है।
 


अभी सिर्फ 2G सेवाएं उपलब्ध
केंद्र सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाला आर्टिकल 370 हटाया था। तभी से राज्य में इंटरनेट, मोबाइल सेवा और सोशल मीडिया पर रोक लगाई गई थी। हालांकि, बाद में सीमित स्पीड के साथ 2जी सेवाएं शुरू कर दी गईं। 4 मार्च से सोशल मीडिया भी शुरू कर दी गई। हालांकि, 4G सेवाओं पर अभी भी रोक लगी है।

छात्रों को हो रही दिक्कत
लॉकडाउन के चलते देश के सभी स्कूल कॉलेज बंद हैं। वहीं, सिर्फ 2G नेटवर्क के चलते राज्य में बच्चे इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई ठीक से नहीं कर पा रहे हैं। इसी को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर 4G इंटरनेट खोलने की मांग की गई है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios