कन्नूर. केरल के कन्नूर जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। कन्नूर में एक मां ने अपने डेढ़ साल के बच्चे की हत्या कर उसकी लाश को समुद्र के किनारे चट्टानों के पीछे छिपा दिया। जिसे बाद में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस द्वारा दिए गए जानकारी के मुताबिक कन्नूर जिले के थय्यिल में 22 साल की महिला ने अपने बेटे को दो बार पत्थर पर पटक कर मार दिया। पहली बार जब बेटे को उसने पत्थर पर पटका तो वह रोया, इसके बाद महिला ने उस पर दोबारा पत्थर पर पटका। जिसके बाद मासूम ने दम तोड़ दिया। 

प्रेमी के चक्कर में मासूम को उतारा मौत के घाट 

पुलिस ने सरन्या नामक इस महिला को मंगलवार की शाम को गिरफ़्तार कर लिया है। महिला ने पुलिस को जो पहला बयान दिया उसके मुताबिक़ उसने इस अपराध के लिए अपने पति प्रणव को ज़िम्मेदार ठहराया। पुलिस ने बताया कि प्रणव और सरन्या की शादी ठीक-ठाक नहीं चल रही थी और यह तलाक के कगार पर पहुंच गई थी। यह भी जानकारी मिली है कि सरन्या के संबंध उसके दोस्त प्रणव के साथ थे। 

पति पर था शक, मां निकली हत्यारी

पुलिस के मुताबिक वियान नाम का ये बच्चा सोमवार को सरन्या के घर से गायब था। बाद में सुबह 10 बजे वियान का शव थय्यिल समुद्र तट पर दीवार के पास मिला। बच्चे का पिता तीन महीने बाद घर लौटा था ऐसे में शक की सुई सबसे पहले उसी की ओर गई जिसके बाद इसलिए पुलिस ने पहले प्रणव से पूछताछ की लेकिन पुलिस ने पति-पत्नी के बयान में अंतर पाया। जिसके बाद पुलिस आरोपी के करीब तक पहुंच पाई और आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया। 

अचानक मामले में आया नया मोड़ 

उप पुलिस अधीक्षक पीपी सदानंदन और सीआई पीआर सतीसन की टीम को सरन्या के बयान पर भरोसा नहीं हुआ और उससे दोबारा पूछताछ की और फॉरेंसिक सबूत पर भरोसा किया। पुलिस ने बताया कि उनका घर अंदर से बंद था और इस बात की संभावना नहीं थी कि कोई इस घर में बाहर से आया हो। जांच के दौरान पुलिस को सरन्या के कपड़ों पर समुद्र के पानी और बालू के निशान दिखे जिसके बाद मामले की जांच कर रही पुलिस के सामने मामले में एक नया मोड़ आ गया। पूछताछ के दौरान सरन्या ने माना कि उसने अपराध किया है और बताया कि अपने प्रेमी के साथ रहने के लिए उसने बच्चे को मार दिया।

पति के पास सुलाया फिर ले जाकर की हत्या 

सरन्या ने अपने रिश्तेदारों की मौजूदगी में पुलिस के सामने कबूल किया कि उसने बच्चे के सिर को पत्थर पर मारकर उसकी हत्या कर दी और लाश वहीं छोड़कर घर वापस आ गई। पुलिस ने बताया चूंकि उसका मछुआरा पिता वलसराज समुद्र में जा रहा था, उसने अपने पति को रविवार को बुलाया था जो तीन महीने से अधिक समय से घर से बाहर रह रहा था। 

उसने रात को बच्चे को प्रणव के साथ सोता हुआ छोड़ दिया जो कि शायद पति को इस हत्या में फंसाने की साज़िश का हिस्सा था, सरन्या ने बच्चे को उठाया जो उस समय अपने बाप के पास सो रहा था और उसे समुद्र तट पर ले आई। इसके बाद उसने उसको पत्थर पर पटक दिया। जब बच्चा रोने लगा तो उसने दोबारा उसको पत्थर पर पटक दिया। जब उसको लगा कि बच्चा मर गया है, वह उसकी लाश को वहीं छोड़कर घर वापस आ गई और ऐसे सो गई, मानो कुछ भी नहीं हुआ है।