Asianet News HindiAsianet News Hindi

जो काम बुलेट प्रूफ जैकेट नहीं कर सकी, एक पर्स ने कर दिखाया, प्रदर्शनकारी की गोली से ऐसे बची सिपाही की जान

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर हमले किए इस दौरान ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को सीने में गोली लगी। गोली उसके बुलेट फ्रूफ जैकेट को चीरती हुई अंदर चली गई और शर्ट की पॉकेट में रखे पर्स में जाकर फंस गई। जिससे सिपाही की जान बच गई  

a purse saved the life of a soldier kps
Author
Firozabad, First Published Dec 22, 2019, 11:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फिरोजाबाद. नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जारी प्रदर्शन के दौरान उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हिंसा की घटनाएं सामने आई। जिसे काबू में करने और सुरक्षा व्यवस्था को कायम रखने के लिए भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई थी। इन सब के बीच एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। जिसमें एक पर्स ने पुलिसकर्मी की जान बचा ली है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर हमले किए इस दौरान ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को सीने में गोली लगी। गोली उसके बुलेट फ्रूफ जैकेट को चीरती हुई अंदर चली गई। लेकिन ये गोली पुलिसकर्मी की शर्ट की पॉकेट में रखे पर्स में जाकर फंस गई। 

पर्स में फंसी दिख रही गोली 

इस घटना के बाद पुलिसकर्मी ने गोली लगी पर्स की तस्वीरें दिखाई। तस्वीरों में पुलिसकर्मी के पर्स में फंसी हुई गोली दिख रही है। फिरोजाबाद में कांस्टबेल बिजेन्द्र कुमार CAA के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ड्यूटी पर तैनात थे। इस दौरान उन्होंने बुलेट प्रूफ जैकेट पहन रखी थी। साथ ही अपना पर्स शर्ट की पॉकेट में रखा था। तभी उन्हें सीने पर गोली लगी। गोली की रफ्तार इतनी तेज थी कि उनकी बुलेट प्रूफ जैकेट फट गई, इसके बाद बुलेट प्रुफ जैकेट के नीचे पहनी गई शर्ट भी फट गई और गोली शर्ट के पॉकेट में रखे पर्स में जाकर फंस गई।

पर्स में थी देवी-देवताओं की तस्वीरें 

इस घटना के सामने आने के बाद कांस्टबेल बिजेन्द्र कुमार का कहना है कि वे सौभाग्यशाली थे कि गोली उनके पर्स में ही फंसी रही, इस घटना को उन्होंने अपना पुनर्जन्म बताया है। जिले के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि कई पुलिसकर्मियों को गोली लगी है। उनका इलाज किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि जिले में स्थिति नियंत्रण में है। कांस्टबेल बिजेन्द्र कुमार का कहना है कि उनके पर्स में चार एटीएम कार्ड और कुछ देवी-देवताओं की तस्वीरें थी। उन्होंने कहा कि गोली प्रदर्शनकारियों की ओर से फायर की गई थी। उन्होंने कहा गोली किस ओर से आई उन्हें पता नहीं है। जिले के वरिष्ठ पुलिसकर्मियों ने कांस्टबेल बिजेन्द्र कुमार की तारीफ की है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios