Asianet News HindiAsianet News Hindi

रेप के आरोपी नित्यानंद ने बनाया धार्मिक अर्थव्यवस्था वाला अपना देश, अलग ध्वज और पासपोर्ट होगा

दुष्कर्म और आश्रम में बच्चों को बंधक बनाने का आरोपी विवादित स्वयंभू बाबा नित्यानंद की गुजरात पुलिस तलाश कर रही है। इसी बीच नित्यानंद के बारे में एक चौकाने वाली खबर आई है।

Accused Nithyananda Declares His Own Hindu Nation Kailaasa, Report says
Author
New Delhi, First Published Dec 4, 2019, 12:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दुष्कर्म और आश्रम में बच्चों को बंधक बनाने का आरोपी विवादित स्वयंभू बाबा नित्यानंद की गुजरात पुलिस तलाश कर रही है। इसी बीच नित्यानंद के बारे में एक चौकाने वाली खबर आई है। बताया जा रहा है कि नित्यानंद ने अपना एक अलग देश बना लिया है, इसमें नया ध्वज, नया संविधान और नया प्रतीक चिह्न बनाया गया है। Kailaasa.org वेबसाइट के सामने आने के बाद यह दावा किया जा रहा है। 

वेबसाइट के मुताबिक, नित्यानंद ने हिन्दू संप्रभु राष्ट्र 'कैलाश' की घोषणा की है। इस देश में प्रधानमंत्री और मंत्रिमंडल भी होगा।

1 साल पहले बनी वेबसाइट
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस वेबसाइट पर नए देश के लिए चंदा भी मांगा जा रहा है। इसके जरिए 'महानतम हिंदू राष्ट्र' की नागरिकता देने की बात कही जा रही है। बताया जा रहा है कि यह वेबसाइट 21 अक्टूबर 2018 को बनाई गई थी। इसे आखिरी बार 10 अक्टूबर 2019 को अपडेट किया गया है। इसका IP अमेरिका के डलास में है। 
 
कहां पर स्थित है यह देश?
यह देश कहां पर स्थित है, इसका पता नहीं चल पाया है। बेवसाइट के मुताबिक, कैलाश देश की कोई सीमा नहीं होगी। इसे दुनियाभर से बेदखल किए गए हिंदुओं के लिए बनाया गया है। वेबसाइट में बताया गया, कैलाश की शुरुआत संयुक्त राज्य अमेरिका में हुई। इस अभियान की अगुआई  हिन्दू आदि शैव अल्पसंख्यक समुदाय ने की। 

अलग ध्वज, अलग अर्थव्यवस्था होगी
वेबसाइट में बताया गया है कि कैलाश का अलग ध्वज है। इसमें भगवान शिव के वाहन नंदी के साथ स्वयं नित्यानंद की तस्वीर है। कैलाश में अन्य देशों की तरह ही अन्य विभाग भी होंगे। यहां 'धार्मिक अर्थव्यवस्था' होगी। इसके अलावा हिंदू निवेश और रिजर्व बैंक भी होगा। कैलाश' का अपना पासपोर्ट भी होगा, और कोई भी देश की नागरिकता के लिए आवेदन कर सकता है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios