नई दिल्ली. भारत में कोरोना संक्रमण की स्पीड पर ब्रेक नहीं लग पा रहा है। पिछले 24 घंटे में भारत में अब तक के रिकॉर्ड 3,15,552 नए केस आए हैं। यही नहीं, 2000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। एक दिन में मिले केसों के मामले में भारत ने अमेरिका को भी पीछे छोड़ दिया है। अमेरिका में जनवरी में तीन लाख के ऊपर केस आए थे। भारत में इस समय 22 लाख से अधिक एक्टिव केस हैं। मई तक पीक पर रहेगा। भारत में कोरोना संक्रमण की स्पीड को रोकने विभिन्न राज्य अपने-अपने स्तर पर कड़े नियम-कायदे लागू कर रहे हैं। देश में महाराष्ट्र की स्थिति सबसे खराब है। उत्तर प्रदेश दिल्ली, कर्नाअक, केरल, राजस्थान, छत्तीसगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, आंध प्रदेश, हरियाणा और तेलंगान ऐसे राज्य हैं, जहां केस अधिक आ रहे हैं। ऐसे में इन राज्यों में अधिक सख्ती बरती जा रही है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के अनुसार भारत में 21 अप्रैल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 27,27,05,103 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 16,51,711 सैंपल कल टेस्ट किए गए।

UPDATE जानिए संक्रमण को रोकने विभिन्न राज्यों के एक्शन प्लान...

अमरनाथ यात्रा पर रोक: श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड ने कहा-कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए अमरनाथ यात्रा के लिए पंजीकरण को अस्थायी रूप से निलंबित किया जा रहा है। स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है और स्थिति में सुधार होते ही इसे फिर से खोल दिया जाएगा।

हरियाणा में बंद नहीं होंगे उद्योग: मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा-हरियाणा में चलते हुए उद्योगों को बंद करने की सरकार की कोई योजना नहीं है और ना ही लॉकडाउन लगाने की कोई योजना है। जिन बाजारों में भीड़ होती है वहां पर हम शाम 6 बजे के बाद दुकानों को बंद करने की योजना बना रहे हैं।

दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा बढ़ाया गया: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार और दिल्ली हाईकोर्ट का शुक्रिया करते हुए कहा कि पिछले दो-तीन दिन में उन्होंने बहुत मदद की है, जिसकी वजह से अब ऑक्सीजन दिल्ली पहुंचने लगी है। दिल्ली में ऑक्सीजन का कोटा 480 टन कर दिया गया है।

आंदोलित किसानों को लगेंगी वैक्सीन : हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा की सीमा पर बैठे आंदोलित किसानों को वैक्सीन लगाने की दिशा में स्वास्थ्य विभाग और किसान नेताओं के बीच बातचीत होगी। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा-हम किसानों को यहां से जाने के लिए नहीं कहेंगे। हम 5 महीनें से यहां हैं, ये तो अब हमारा गांव है। यहां कैंप लगवाया जाए, हम वैक्सीन लगवाएंगे। हम यहां कम लोगों को रखेंगे और बैठक नहीं होगी, लोग आते जाते रहेंगे। आज हम 2 दिन के लिए हरियाणा जाएंगे।

इन राज्यों ने किया मुफ्त में टीकाकरण का ऐलान: मध्य प्रदेश के अलावा, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, असम, बिहार और केरल आदि राज्यों ने 1 मई से शुरू हो रहे 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत मुफ्त में वैक्सीन लगाने का ऐलान किया है।

महाराष्ट्र में 1 मई तक लॉकडाउन: महाराष्ट्र में रात आठ बजे से एक मई तक लॉकडाउन रहेगा। वहीं सरकारी दफ्तरों में सिर्फ 15 प्रतिशत कर्मचारियों से ही काम कराया जाएगा। बेवजह बाहर निकलने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना होगा। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा-हम धीरे-धीरे कड़े लॉकडाउन की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। आज प्रतिबंध बहुत बढ़ाए गए हैं, दो-चार दिन में प्रतिबंधों को और बढ़ाया जाएगा। वहीं शादी का कार्यक्रम दो घंटे में पूरा करना होगा। इनमें 25 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। आदेश नहीं मानने पर 5,000 से 50,000 रुपए तक का जुर्माना लगेगा। यह आदेश गुरुवार रात 8 बजे से लागू होगा।

केरल में टोटल लॉकडाउन नहीं, लेकिन सख्ती: केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने राज्य में टोटल लॉकडाउन लगाने से मना किया है। लेकिन कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। एर्नाकुलम जिले में जरूर प्रशासन ने 7 दिनों का लॉकडाउन लगाया हुआ है। 

 

 

दिल्ली: कोरोना के मामले बढ़ने की वजह से लगे लॉकडाउन से गाजीपुर के फल और सब्जी मंडी में ग्राहकों की संख्या बहुत कम हो गई है।

एक व्यक्ति ने कहा, ''कोरोना की वजह से सब्जी मंडी में ग्राहक बहुत कम हैं, जिससे हमारी हालत बहुत खराब है। काम बहुत मंदा चल रहा है।'' pic.twitter.com/hF8p4qgjql

 

 

दिल्ली: भाजपा सांसद गौतम गंभीर के कार्यालय के बाहर बहुत से लोग दवा की पर्ची लेकर दवा के लिए पहुंचे हैं।

एक व्यक्ति ने कहा, ''हमें डॉक्टर ने फेबी फ्लू टैबलेट लाने को कहा है। यह दवा कहीं भी उपलब्ध नहीं है। यहां यह टैबलेट मुफ्त में दी जा रही है।'' pic.twitter.com/JoaTWAzzgQ

 

झारखंड: रांची में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

SSP ने बताया, ''लॉकडाउन को लागू कराने के लिए रोड शो किया जा रहा है। इसका मकसद लोगों को जागरूक करना है कि वे घर में ही रहें। बिना किसी कारण बाहर निकलेंगे तो कार्रवाई की जाएगी।'' pic.twitter.com/xqJ6gYqrGS

ये भी पढ़ें...

बिना ऑक्सीजन टूट जाती सांस, स्ट्रेचर पर मरीज...परिजनों के हाथ में 'जिंदगी', हिला देगा ये वीडियो

कूकर से सीटी निकाल बनाएं भाप लेने का सबसे बढ़िया तरीका, कोरोना में बड़े काम का है ये Video

'बहू को अपनी आंखों के सामने तड़पते देखा', परिजनों ने खोली पोल

क्या भारत ने 700% ऑक्सीजन का निर्यात किया, PIB ने बताया इस वायरल मैसेज का सच?