Asianet News Hindi

Action Against Corona: महाराष्ट्र में हाई पॉजिटिविटी रेट वाले 18 जिलों में होम आइसोलेशन की अनुमति बंद

कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में केंद्र और विभिन्न राज्यों के प्रयास रंग लाने लगे हैं। लॉकडाउन और दूसरी अन्य पाबंदियों से संक्रमण की स्पीड पर ब्रेक लगा है। वहीं अस्पतालों की व्यवस्थाओं की दिशा में भी सकारात्मक बदलाव आया है। दवाओं और मेडिकल इक्विपमेंट्स की कालाजाबारी करने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार छापामार कार्रवाई कर रही है। अब सारी जद्दोजहद मौतों की संख्या कम करने की है। अभी लगातार 3 और 4 हजार के बीच मौतें हो रही हैं। आइए जानते हैं संक्रमण को रोकने और गाइड लाइन का पालन कराने विभिन्न राज्य क्या कोशिशें कर रहे हैं...

Action Against Corona, updated data of action plans of various states to prevent corona infection kpa
Author
New Delhi, First Published May 25, 2021, 9:47 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना की दूसरी लहर पर ब्रेक लगते दिखाई दे रहे हैं। कुछ राज्यों को छोड़ दिया जाए, तो केस लगातार कम हो रहे हैं। पिछले 40 दिनों बाद सबसे कम यानी 2 लाख से नीचे केस आए हैं। हालांकि मौतों की संख्या कम करना अभी भी एक बड़ी चुनौती बनी हुई है। खैर, लॉकडाउन और दूसरी अन्य पाबंदियों से संक्रमण की स्पीड पर ब्रेक लगा है। वहीं अस्पतालों की व्यवस्थाओं की दिशा में भी सकारात्मक बदलाव आया है। दवाओं और मेडिकल इक्विपमेंट्स की कालाजाबारी करने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार छापामार कार्रवाई कर रही है।


आइए जानते हैं संक्रमण को रोकने और गाइड लाइन का पालन कराने विभिन्न राज्य क्या कोशिशें कर रहे हैं...

महाराष्ट्र: जिन जिलों में संक्रमण दर 10% से ज्यादा है, वहां होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं होगी। यानी अब उन्हें आइसोलेशन सेंटर जाना ही होगा। दरअसल, कोरोना की दूसरी लहर का महाराष्ट्र में सबसे अधिक असर सामने आया है। इस वजह से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यह फैसला किया है। यानी कोरोना पीड़ित अब घर पर इलाज नहीं करा पाएंगे। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि हाई पॉजिटिविटी रेट वाले 18 जिलों में होम आइसोलेशन बंद करने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में आज एक रिव्यू मीटिंग हुई थी। इसमें डिप्टी सीएम अजित पवार भी मौजूद थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 21.89 करोड़ से ज़्यादा वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी 1.77 करोड़ से ज़्यादा वैक्सीन उपलब्ध है।

कलबुर्गी-कर्नाटक: उपायुक्त के मुताबिक-ज़िले में तीन दिनों  (27 मई सुबह 6 बजे से 30 मई सुबह 6 बजे ) तक सख़्त लॉकडाउन लागू रहेगा। इस दौरान आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं को छोड़कर सब कुछ प्रतिबंधित होगा।

उत्तर प्रदेश: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा-1 जून से 18-44 वर्ष के लोगों का वैक्सीनेशन सभी 75 ज़िलों में शुरू होने जा रहा है। इसमें सभी अभिभावकों को जिनके बच्चे 12 साल से छोटी उम्र के हैं यानी तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखकर उन अभिभावकों को पहले से वैक्सीन दे देना जिससे वे संक्रमित न होने पाएं।

दिल्ली: रूस से रेमडेसिविर इंजेक्शन और दवाएं लेकर विमान आज दिल्ली हवाई अड्डे पर पहुंचा।

कर्नाटक: ओडिशा के राउरकेला से ऑक्सीजन एक्सप्रेस लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन के साथ बेंगलुरु पहुंची।

जम्मू: डॉ. पंकज डोगरा के मुताबिक, हमने रैपिड टेस्टिंग शुरू की हुई और जिनमें लक्षण होता है उनका हम टेस्ट करते हैं और पॉजिटिव आने के बाद उन्हें आइसोलेट करते हैं, हम उन्हें पूरी दवाइयां देते हैं। हमने कुल 3,000 टेस्ट किए हैं, सक्रिय मामले 97 हैं और 100 से ज़्यादा लोग डिस्चार्ज हो गए हैं।

यहां जानें आगे क्या: मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश आदि 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं, हालांकि राजस्थान, लद्दाख और कर्नाटक अभी इस बारे में कोई निर्णय लेने की स्थिति में नहीं आए हैं। दिल्ली में 1 जून से मेट्रो शुरू होने की उम्मीद है। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क की अनिवार्यता के साथ बाजार भी खोले जा सकते हैं।

यहां लॉकडाउन: दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में 31 मई तक लॉकडाउन है। बिहार में 1 जून, झारखंड में 27 मई, ओडिशा और राजस्थान में 8 जून, पश्चिम बंगाल में 30 मई, गुजरात के 36 शहरों में 28 मई तक लॉकडाउन रहेगा। कर्नाटक में 7 जून तक लॉकडाउन रहेगा।

इन राज्यों में लॉकडाउन: 19 राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन हैं। ये हैं-हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, मिजोरम, गोवा, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी।

इन राज्यों में कुछ छूट: 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में छूट के साथ लॉकडाउन है। ये हैं- पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, मेघालय, नगालैंड, असम, मणिपुर, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश और गुजरात।

 

Asianet News का विनम्र अनुरोधः आइए साथ मिलकर कोरोना को हराएं, जिंदगी को जिताएं...। जब भी घर से बाहर निकलें माॅस्क जरूर पहनें, हाथों को सैनिटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वैक्सीन लगवाएं। हमसब मिलकर कोरोना के खिलाफ जंग जीतेंगे और कोविड चेन को तोड़ेंगे। #ANCares #IndiaFightsCorona
 

pic.twitter.com/yebXAukBIN

 

pic.twitter.com/DbYut6kQFz

 

CovidVaccine pic.twitter.com/QByHZaxFla

 

#COVID19 pic.twitter.com/RJCdnzqcbY

 

pic.twitter.com/DsfcxWd45N

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios