Asianet News HindiAsianet News Hindi

12 साल बाद कब्र से निकाली जाएगी रेप पीड़िता की बॉडी; 8 साल जेल में रहने के बाद बरी हुआ था आरोपी

यहां महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और हत्या के बाद एक और चौकाने वाला मामला सामने आया है। आंध्र प्रदेश में 12 साल पहले हुए एक रेप और मर्डर केस में फाइल दोबारा खुलेगी।

After 12 Years Vijayawada Murder Case Reopen, CBI Order PM of Exhumed Body KPP
Author
Vijayawada, First Published Dec 14, 2019, 1:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हैदराबाद. यहां महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और हत्या के बाद एक और चौकाने वाला मामला सामने आया है। आंध्र प्रदेश में 12 साल पहले हुए एक रेप और मर्डर केस में फाइल दोबारा खुलेगी। सीबीआई इस केस में फिर से जांच करेगी। इसी के चलते 12 साल बाद पीड़िता की बॉडी कब्र से फिर निकाली जाएगी। इसके बाद बॉडी का फिर पॉस्टमॉर्टम होगा। 

क्या है मामला?
आंध्र के विजयवाड़ा में 2007 में एक 19 साल की छात्रा की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। वह फार्मेसी की छात्रा थी। छात्रा की बॉडी बाथरूम में मिली थी। बॉडी पर घाव के निशान थे। उसी जगह पर एक चिट्ठी मिली थी, जिसमें लिखा था कि प्यार ठुकराने की वजह से लड़की का रेप और मर्डर किया गया। 

1 साल बाद आरोपी गिरफ्तार 
इस दरिंदगी के बाद तमाम समाजिक संगठनों ने पीड़िता के लिए न्याय की मांग की थी। 17 अगस्त 2008 को पुलिस ने सत्यम बाबू को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना था कि आरोपी घटना में शामिल था और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। 
 
निचली अदालत ने 14 साल की सजा सुनाई, हाईकोर्ट ने किया बरी
विजयवाड़ा कोर्ट ने सत्यम बाबू को 14 साल की सजा सुनाई। लेकिन सत्यम बाबू के परिजनों का कहना था कि पुलिस असली गुनहगारों को बचाने की कोशिश में लगी है। सत्यम चल नहीं सकता, उसे न्यूरो संबंधी बीमारी है। सत्यम के परिजनों ने हाईकोर्ट में अपील की। 31 मार्च 2017 को हाईकोर्ट ने सारे आरोप खारिज कर दिए। इसके अलावा 8 साल जेल में रहने के लिए उसे 1 लाख रुपए का मुआवजा देने का आदेश दिया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios