Asianet News HindiAsianet News Hindi

जब सड़क पर अचानक होने लगी नोटों की बारिश, लोगों में लगी थी बटोरने की होड़

कोलकाता की एक गली में बुधवार को नोटों की बारिश हो गई। दरअसल, यहां एक इमारत में वाणिज्य विभाग की इंटेलिजेंस टीम छापेमारी कर रही थी और उसी दौरान इसकी छठी मंजिल पर एक खिड़की से नोट फेंके जाने लगे।

After all, why the sudden rain of notes started on the road, people were competing to collect
Author
Kolkata, First Published Nov 21, 2019, 9:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. कोलकाता की गलियों में बुधवार को एक बार ऐसा नजारा देखने को मिला जो किसी फिल्मी सीन से कम नहीं था। जिसमें एक बहुमंजिल इमारत के नीचे खड़े लोगों पर नोटों की बारिश हो रही थी और नीचे मौजूद लोग नोट बटोरने के लिए दौड़ रहे थे। दरअसल, इस इमारत में एक ऑफिस में आयकर विभाग का छापा पड़ा था। जिसके बाद उस कार्यालय से नोटों का बाहर फेंका गया। जिससे सड़क पर नोटों की बारिश होने लगी।

3.74 लाख रुपये बरामद

मौके पर मौजूद कई लोग हवा में उड़ते नोटों को पकड़ने दौड़ पड़े, तो दूसरे लोग विडियो बनाने में जुट गए। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, 'कोई छठी मंजिल से नोट खिड़की से बाहर फेंक रहा था। नोटों के बंडल इमारत के परिसर के अंदर ही गिर रहे थे लेकिन जो नोट बाहर निकलकर सड़क पर आ रहे थे उन पर कब्जा जमाने के लिए लोगों की भीड़ थी।' पुलिस के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि आसपास के इलाके से 3.74 लाख रुपये बरामद किए गए।

असली या नकली?

पुलिस सूत्रों के मुताबिक इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट अधिकारी दोपहर करीब 2:30 बजे एमके पॉइंट बिल्डिंग पर पहुंचे। कुछ देर बाद ही छठी मंजिल पर खिड़की खुली और किसी ने कैश के बंडल फेंकने शुरू कर दिए। कुछ ही देर में इमारत के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो गई। अधिकारियों ने इस मामले में चुप्पी साध रखी है। हालांकि, एक अधिकारी ने कहा है कि फिलहाल यह नहीं कहा जा सकता है कि खिड़की से बाहर फेंके गए नोट असली थे या नकली।

हवा में तैर रहे थे 2 हजार के नोट 

बेनटिंक स्ट्रीट पर रहने वाले अजमल खान ने इस वाक्ये के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 'दोपहर करीब 3 बजे मैंने सुना, मुझे मेरे कानों पर विश्वास नहीं हुआ। मेरा ऑफिस पास में ही है और मैं देखने गया कि क्या हो रहा है। जब मैं उस इमारत पर पहुंचा तो यह देखकर हैरान रह गया कि हवा में 2000 और 500 रुपये के नोट तैर रहे थे।' आयकर विभाग से कुछ दूर स्थित इमारत को ओरियंट सिनेमा के बंद होने के बाद बनाया गया था और यहां कई कॉमर्शल ऑफिस थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios