Asianet News Hindi

महिला दर्द से तड़प रही है...ये मैसेज मिलते ही निकल पड़े वायु सेना के जांबाज, मौत से भी नहीं डरे

भारतीय वायुसेना ने समय-समय पर अपने साहस और वीरता का परिचय दिया है। उन्होंने मंगलवार की शाम को भी एक अनोखी मिसाल पेश की। कम रोशनी में भारतीय वायुसेना के जवानों ने हेलीकॉप्टर से एक बीमार महिला को अस्पताल पहुंचाया। 

Air force hospital to sick woman in Kishwad Jammu kpn
Author
Srinagar, First Published Feb 19, 2020, 5:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

श्रीनगर. भारतीय वायुसेना ने समय-समय पर अपने साहस और वीरता का परिचय दिया है। उन्होंने मंगलवार की शाम को भी एक अनोखी मिसाल पेश की। कम रोशनी में भारतीय वायुसेना के जवानों ने हेलीकॉप्टर से जम्मू की एक बीमार महिला को अस्पताल पहुंचाया। सोशल मीडिया पर इस रेस्क्यू ऑपरेशन की तस्वीर वायरल हो रही है।

जम्मू के किश्तवाड़ में दर्द से तड़प रही थी महिला
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जम्मू के उधमपुर में तैनात हेलीकॉप्टर यूनिट को एक संदेश मिला, जिसमें बताया गया कि दुर्गम पहाड़ी वाले इलाके किश्तवाड़ में एक महिला लीवर की बीमारी से पीड़ित है। उसे तुरन्त हॉस्पिटल पहुंचाना होगा। 

कम रोशनी के बाद भी मौके पर पहुंचे जवान
शाम होने की वजह से रोशनी कम थी। ऐसे में पहाड़ी इलाकों में उड़ान भरना जोखिम भरा होता है। फिर भी भारतीय वायु सेना के दो पायलटों ने इस जोखिम भरे मिशन के लिए ठान ली। जवान बीमार महिला तक पहुंचे और नाईट विजन गॉगल्स का सहारा लेकर जम्मू एयर फोर्स स्टेशन में लैंडिंग की। 

महिला की स्थिति में लगातार हो रहा है सुधार
वायु सेना के मुताबिक, इस मिशन को विंग कमांडर शिवम मनचंदा और स्क्वाड्रन लीडर एम के सिंह ने पूरा किया। फिलहाल महिला की तबीयत अभी ठीक बताई जा रही है। उसकी हालत में सुधार हो रहा है। 

जनवरी में भी गर्भवती महिला को पहुंचाया था अस्पताल 
जनवरी महीने में भी भारी बर्फबारी के बीच कश्मीर में सेना के जवान एक गर्भवती महिला के लिए देवदूत बनकर सामने आए। जवानों ने चार घंटे पैदल चलकर महिला को अस्पताल पहुंचाया। साल 2019 में भी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में जवानों ने गंभीर रूप से बीमार गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया था। भारी बर्फबारी की वजह से गुरेज सेक्टर में यातायात ठप था। इस वजह से जवानों ने महिला को वहां के सिविल अस्पताल से एयरलिफ्ट कर इलाज के लिए दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया। महिला एनिमिया से पीड़ित थी।

15 जनवरी 2020 की तस्वीर : सेना के 100 जवानों ने कमर तक गहरी बर्फ में पैदल चल गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया था।

Image

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios