Asianet News HindiAsianet News Hindi

DefExpo 2022: एशिया की सबसे बड़ी रक्षा प्रदर्शनी के लिए रक्षा मंत्री ने संभाली कमान, दुनिया के देश हुए मुरीद

रक्षा मंत्री ने डेफएक्सपो 2022 वेबसाइट (www.defexpo.gov.in) का भी शुभारंभ किया। वेबसाइट गुजरात के विभिन्न स्वदेशी रक्षा उत्पादों और पर्यटन, कला और शिल्प के बारे में सूचनात्मक सामग्री की मेजबानी के अलावा प्रदर्शकों को ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करती है।

Asia largest defense exhibition in Gujarat, Defense Minister Rajnath Singh chairs Ambassadors' Round Table for DefExpo 2022
Author
New Delhi, First Published Oct 25, 2021, 4:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। गुजरात (Gujarat) के गांधीनगर (Gandhinagar) में अगले साल मार्च में एशिया (Asia) की सबसे बड़ी रक्षा प्रदर्शनी 2022 (Defense Expo 2022) का आयोजन किया जा रहा है। DefExpo 2022 की तैयारियों के लिए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने विभिन्न देशों के राजदूतों (ambassadors) के साथ गोलमेज मीटिंग की है। प्रदर्शनी का आयोजन 10 से 13 मार्च तक किया जाएगा।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार रक्षा क्षेत्र में आधुनिकीकरण और क्षमताओं को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी का परिणाम है कि पिछले पांच वर्षों में देश का रक्षा निर्यात 334 प्रतिशत बढ़ा है तथा भारत अब 75 से भी अधिक देशों को निर्यात कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत की रक्षा उत्पादों के आयातक की भूमिका निरंतर बदल रही है और रक्षा क्षेत्र में निर्यात में निरंतर बढ़ोतरी हो रही है।

पंद्रह वर्षों में रक्षा बजट में सर्वाधिक बढ़ोत्तरी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वर्ष 2021-22 के वार्षिक बजट में रक्षा पूंजीगत योजना को पिछले वर्ष की तुलना में 18.75 फीसदी बढ़ाया गया है। पिछले 15 वर्षों में यह सर्वाधिक बढोतरी है। 

उन्होंने कहा कि वह सभी मित्र देशों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि भारत संयुक्त राष्ट्र के चार्टर में निहित सामूहिक सुरक्षा प्रणाली के प्रति वचनबद्ध है। इसमें शांति भंग करने वालों तथा आक्रमणकारियों से मिलकर निपटने की बात कही गयी है।

वेबसाइट का किया शुभारंभ

रक्षा मंत्री ने डेफएक्सपो 2022 वेबसाइट (www.defexpo.gov.in) का भी शुभारंभ किया। वेबसाइट गुजरात के विभिन्न स्वदेशी रक्षा उत्पादों और पर्यटन, कला और शिल्प के बारे में सूचनात्मक सामग्री की मेजबानी के अलावा प्रदर्शकों को ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करती है। वेबसाइट प्रदर्शकों के लिए पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर ऑनलाइन स्थान बुक करने, ऑनलाइन भुगतान करने, बुक कॉन्फ्रेंस हॉल और बिजनेस-टू-बिजनेस (बी2बी) बैठकों के लिए सक्षम है। 

इस बार अधिक रक्षा कंपनियां भाग लेंगी

रक्षा मंत्री ने कहा कि पिछली रक्षा प्रदर्शनियों में हासिल उपलब्धियों को आगे बढ़ाते हुए इस बार की प्रदर्शनी में अधिक संख्या में भागीदार तथा विदेशी और भारतीय कंपनी हिस्सा लेंगी। उन्होंने कहा कि हम पहले से चली आ रही भागीदारियों और नये संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 

रक्षा मंत्री ने कहा कि रक्षा प्रदर्शनी 2022 में दुनिया को पिछले 5 से 7 वर्षों में भारत के रक्षा एवं अनुसंधान, उत्पादन, आधुनिक प्रौद्योगिकी और उदारवादी नीतियों की झलक दिखायी देगी। इस प्रदर्शनी में विभिन्न देशों की भागीदारी से परस्पर लाभकारी संबंधों को मजबूती मिलेगी। भारत परस्पर लाभ तथा हितों की रक्षा के आधार पर व्यापार करने के लिए तैयार है जिससे सभी का भला हो सके।

उन्होंने कहा कि दिल्ली और गुजरात में हमारे प्रतिनिधि अगले चार महीनों तक आपकी इस प्रदर्शनी से संबंधित हर समस्या का समाधान करने के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने उम्मीद जतायी कि सभी भागीदार गुजरात की समृद्ध संस्कृति, कला, पाककला और स्वच्छता की अमिट छाप लेकर जायेंगे। 

इस अवसर पर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी, सचिव (रक्षा उत्पादन) राज कुमार और रक्षा मंत्रालय और गुजरात सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

 यह भी पढ़ें:

कोविड की लापरवाहियों के बीच देश में नए वेरिएंट की दस्तक, जानिए कितना है खतरनाक, क्यों दुनिया है खौफज़दा!

तालिबान-आईएस में संघर्ष: हेरात प्रांत में 17 लोग मारे गए

टी20 विश्व कप: योग गुरु रामदेव-राष्ट्रहित और राष्ट्रधर्म के खिलाफ है भारत-पाकिस्तान मैच

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios