Asianet News HindiAsianet News Hindi

कांग्रेस ने RSS की जलती ड्रेस पोस्ट किया तो असम के CM ने पूछा- नेहरू की पैंट में भी आग लगाएंगे क्या?

भाजपा नेता और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने पंडित जवाहर लाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru) की तस्वीर शेयर कर कांग्रेस से पूछा है कि क्या इनकी पैंट में भी आग लगाएंगे? 
 

Assam CM Himanta Biswa Sarma asked Congress Will you set on fire jawaharlal nehru pants vva
Author
First Published Sep 14, 2022, 5:33 PM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) निकाल रहे हैं। दूसरी ओर यात्रा को लेकर राजनीति भी खूब हो रही है। 12 सितंबर को कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर RSS की जलती ड्रेस पोस्ट किया था। इसके बाद भाजपा नेताओं ने जवाबी हमला किया था। इसी क्रम में असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru) की तस्वीर शेयर की है और पूछा है कि इनकी पैंट में भी आग लगाएंगे क्या? 

हिमंत बिस्वा सरमा ने एक तस्वीर शेयर की है। इसमें पंडित नेहरू हाफ पैंट पहने दिख रहे हैं। उनके साथ दो और नेता हैं। उन्होंने भी हाफ पैंट पहना हुआ है। तस्वीर के साथ हिमंत ने लिखा है क्या तुम इसे भी आग लगा दोगे? हिमंत ने यह तस्वीर 12 सितंबर को कांग्रेस की ओर से पोस्ट किए गए उस फोटो के जवाब में शेयर किया है, जिसमें एक खाकी निक्कर को जलता हुआ दिखाया गया था। खाकी निक्कर आरएसएस की ड्रेस रही है।

 

 

कांग्रेस सेवा दल के यूनिफॉर्म में थे नेहरू
दरअसल, हिमंत ने जिस तस्वीर को शेयर किया है उसमें नेहरू कांग्रेस के सेवा दल के यूनिफॉर्म में थे। कांग्रेस सेवा दल के यूनिफॉर्म में भी हाफ पैंट था। 28 दिसंबर 1923 को कांग्रेस सेवा दल की स्थापना हुई थी। बाद में यूनिफॉर्म में बदलाव किया गया था।

कांग्रेस के ट्वीट से मचा था बवाल
कांग्रेस द्वारा RSS के यूनफॉर्म यानी खाकी नेकर को आग लगाते दिखाए जाने से बवाल मच गया था। कांग्रेस ने tweet किया था- "देश को नफरत की बेड़ियों से मुक्त करना है और भाजपा-आरएसएस द्वारा किए गए नुकसान की भरपाई करना है। कदम दर कदम हम अपने लक्ष्य तक पहुंचेंगे। #BharatJodoYatra." हालांकि विवाद बढ़ने पर कांग्रेस ने सफाई देते हुए अगला tweet किया-U won’t understand. This means Burn the ideology not ideologues। यानी-इसे यूं नहीं समझिए! इसका मतलब है कि विचारधारा को जलाओ, विचारकों को नहीं। 

 

 

 

यह भी पढ़ें- Bharat Jodo Yatra: कंट्रोवर्सी के बीच 150 दिन की यात्रा पर यूं आगे बढ़ रहे राहुल गांधी, देखिए कुछ तस्वीरें

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने 'भारत जोड़ो यात्रा' को 'आग लगाओ आंदोलन' बताया था। उन्होंने सवाल किया था कि कांग्रेस को आग से इतना प्यार क्यों है? आरएसएस के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य ने सोमवार को रायपुर में कहा कि वे लोगों को नफरत से जोड़ना चाहते हैं। उनके बाप-दादा ने संघ का तिरस्कार किया और अपनी पूरी ताकत के साथ संघ को रोकने का प्रयास किया, लेकिन संघ रुका नहीं, संघ लगातार बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें- Hindi Diwas 2022: अमित शाह ने बताया क्यों मोदी देश-विदेश में हिंदी में भाषण देते हैं, साथ पढ़िए PM का संदेश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios