Asianet News HindiAsianet News Hindi

सुशांत केस : एसपी को क्वारंटीन करने पर बढ़ा विवाद, बिहार के डीजीपी ने कहा, इसकी कोई जरूरत नहीं थी

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रविवार को पटना से मुंबई भेजे गए सिटी एसपी विनय तिवारी को मुंबई में देर रात क्वारंटीन कर दिया गया, जिसपर विवाद बढ़ गया। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा, हमने क्वारंटीन गाइडलाइंस की जांच की। इसकी कोई जरूरत नहीं थी। यदि कोई अधिकारी सूचना देकर, वाहन और आवास के इंतजाम की रिक्वेस्ट कर गया है तो वो सिक्रेटली नहीं गया था। 

Bihar DGP Gupteshwar Pandey said SP has no need for quarantine kpn
Author
New Delhi, First Published Aug 3, 2020, 5:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रविवार को पटना से मुंबई भेजे गए सिटी एसपी विनय तिवारी को मुंबई में देर रात क्वारंटीन कर दिया गया, जिसपर विवाद बढ़ गया। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा, हमने क्वारंटीन गाइडलाइंस की जांच की। इसकी कोई जरूरत नहीं थी। यदि कोई अधिकारी सूचना देकर, वाहन और आवास के इंतजाम की रिक्वेस्ट कर गया है तो वो सिक्रेटली नहीं गया था। एसपी विनय ने पत्र लिखकर डीसीपी बांद्रा को अपने आने की सूचना दे दी थी।

पटना आईजी ने बीएमसी चीफ को लिखा पत्र
गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा, इस संदर्भ में पटना के आईजी साहब ने बीएमसी के चीफ को एक पत्र लिख रहे हैं।

"सुशांत के खाते से पैसे नहीं ट्रांसफर हुई"
मुंबई पुलिस आयुक्त ने कहा, बिहार पुलिस की एफआईआर में है कि सुशांत के खाते से 15 करोड़ रुपए निकाले गए। जांच में हमने पाया कि उनके खाते में 18 करोड़ रुपए थे, जिसमें से लगभग 4.5 करोड़ रुपए अभी भी हैं। अभी तक रिया के खाते में कोई भी पैसा ट्रांसफर नहीं हुआ है लेकिन हम विस्तार से जांच कर रहे हैं।

"16 जून को दर्ज किया गया था बयान"
मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा, सुशांत के पिता, तीन बहनों और जीजा का बयान 16 जून को दर्ज किया गया था। उस समय उन्होंने कोई संदेह नहीं उठाया और न ही उन्होंने हमारी जांच में किसी चूक के बारे में शिकायत की।

- उन्होंने कहा, जांच में पता चला कि सुशांत को बायपोलर डिसऑडर था। उनके साइकेट्रिस्ट उनका इलाज कर रहे थे और वो निरंतर दवाईयां लेते थे। 'क्या परिस्थितियां थी कि उन्होंने अपनी जान ली' यही हमारा जांच का विषय है। 

56 लोगों के दर्ज हैं बयान
परमबीर सिंह ने कहा, अब तक 56 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं, जितने भी एंगल आ रहे हैं हम हर एंगल से जांच कर रहे हैं, चाहे वो पेशेवर प्रतिद्वंद्विता, फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन या हेल्थ से संबंधित जांच हो।

रिया चक्रवर्ती को लेकर क्या कहा?
रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मनेशिंदे ने कहा, मुंबई पुलिस ने रिया चक्रवर्ती का बयान दर्ज किया। रिया ने पुलिस का पूरा सहयोग किया। आज तक बिहार पुलिस द्वारा उसे कोई नोटिस/समन प्राप्त नहीं हुआ है और उनके पास जांच के लिए कोई अधिकार नहीं है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios