Asianet News HindiAsianet News Hindi

आर्मी जॉइन करना चाहती थीं सुषमा, उस वक्त महिलाओं को नहीं थी अनुमति

 14 फरवरी को अंबाला में जन्मीं सुषमा स्वराज आर्मी जॉइन करना चाहती थीं। लेकिन करीब 30 साल पहले सेना में महिलाओं की एंट्री प्रतिबंधित थी। इसी वजह से वे अपना सपना पूरा नहीं कर पाईं।

bjp leader sushma swaraj wanted to be a army officer
Author
New Delhi, First Published Aug 7, 2019, 1:39 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. 14 फरवरी को अंबाला में जन्मीं सुषमा स्वराज आर्मी जॉइन करना चाहती थीं। लेकिन करीब 30 साल पहले सेना में महिलाओं की एंट्री प्रतिबंधित थी। इसी वजह से वे अपना सपना पूरा नहीं कर पाईं। सुषमा ने कुछ वक्त पहले ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की थी। इसमें वे एनसीसी की ड्रेस में नजर आ रहीं थीं। सुषमा अंबाला के एसडी कॉलेज की बेस्ट एनसीसी कैडेट हुआ करती थीं।

सुषमा स्वराज के राजनीतिक करियर की शुरूआत 1970 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से हुई। जयप्रकाश आंदोलन से सुषमा स्वाराज ने आपातकाल का जमकर विरोध किया। 1977 और 87 में अंबाला छावनी से विधायक बनीं। 

सुषमा स्वराज भारतीय राजनीति की सबसे ताकतवर महिलाओं में से एक थीं। उनका भाषण सुन विपक्षी भी कायल हो जाते हैं। सुषमा स्वराज सुप्रीम कोर्ट की पूर्व वकील भी थीं। वे विदेश मंत्री बनने वाली भारत की पहली महिला थीं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios