Asianet News Hindi

देश तोड़ने की बात करने वाले शरजील जैसों को सरेआम गोली मार देनी चाहिए; भाजपा विधायक

 नागरिकता कानून को लेकर शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन को लेकर उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक संगीत सोम ने विवादास्पद बयान दिया है। उत्तर प्रदेश की  सरधना सीट से विधायक संगीत सोम ने कहा, जो महिलाएं विरोध प्रदर्शन के लिए बैठी हैं उनके पास कोई काम नहीं है। इस प्रोटेस्ट के लिए हो रही फंडिंग की जांच होनी चाहिए। 

BJP MLA Sangeet Som says ppl like Sharjeel Imam should be shot dead publicly KPP
Author
Lucknow, First Published Jan 31, 2020, 10:02 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. नागरिकता कानून को लेकर शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन को लेकर उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक संगीत सोम ने विवादास्पद बयान दिया है। उत्तर प्रदेश की  सरधना सीट से विधायक संगीत सोम ने कहा, जो महिलाएं विरोध प्रदर्शन के लिए बैठी हैं उनके पास कोई काम नहीं है। इस प्रोटेस्ट के लिए हो रही फंडिंग की जांच होनी चाहिए। 

इतना ही नहीं सोम ने हाल ही में विवादित बयान को लेकर गिरफ्तार हुए शरजील इमाम को लेकर भी बयान दिया। उन्होंने कहा, शरजील इमाम की तरह भारत को तोड़ने की बात करने वालों को सरेआम गोली मार देनी चाहिए।

कौन हैं संगीत सोम?
संगीत सोम भाजपा के सरधना से विधायक हैं। वे विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। इससे पहले वे बसपा, सपा में भी रह चुके हैं। सोम को मुजफ्फरनगर दंगों में भी आरोपी बनाया गया था। इसके बाद उन्हें जेल भी जाना पड़ा था। 

बिहार से गिरफ्तार हुआ शरजील 
जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने को लेकर मंगलवार को शरजील को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया। जिसके बाद शरजील को दिल्ली लाया गया जहां से उसे पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया था। शरजील ने पूछताछ में शरजील इमाम ने बताया कि वह 25 जनवरी को बिहार के फुलवारी शरीफ में सीएए-एनआरसी के विरोध में शाहीन बाग की तरह चल रहे धरने में भाषण देने पहुंचा था, वो जब भाषण दे रहा था, उसी दौरान पता चला कि उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है। ये पता चलते ही वो अंडरग्राउंड हो गया था। 

कट्टरपंथी है इमाम
दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक पूछताछ में पता चला है कि शरजील इमाम अत्यधिक कट्टरपंथी है और उसका मानना ​​है कि भारत को एक इस्लामिक राज्य होना चाहिए। उसने यह भी माना है कि उनके अलग-अलग भाषणों के वीडियो के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios