Asianet News Hindi

बंगाल हिंसा पर BJP सांसद की ममता को चेतावनी-चुनाव में हार-जीत होती है मर्डर नहीं, याद रखें दिल्ली भी आना है

पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हो रही हिंसा के बाद भाजपा सांसद प्रवेश सिंह ने ममता बनर्जी को चेतावनी दी है। उन्होंने एक ट्वीट किया है, जिसमें कहा है कि चुनाव में हार-जीत होती है मर्डर नहीं, इसलिए वे याद रखें कि उन्हें भी दिल्ली आना है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल की जीत के साथ ही भाजपा दफ्तरों और कार्यकर्ताओं पर हमले की घटनाएं हो रही हैं। इसमें 11 भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत हुई है। इस मामले में केंद्रीय मंत्रालय ने राज्य से रिपोर्ट मांगी है।

BJP MP statement on violence in West Bengal after assembly elections kpa
Author
New Delhi, First Published May 4, 2021, 10:58 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकता, पश्चिम बंगाल. विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के साथ ही तृणमूल कार्यकर्ताओं ने हिंसा का तांडव शुरू कर दिया है। इस चुनावी हिंसा में 11 भाजपा कार्यकर्ताओं के मारे जाने की खबर है। इसे लेकर भाजपा नेताओं में आक्रोश देखा जा रहा है। पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हो रही हिंसा के बाद भाजपा सांसद प्रवेश सिंह ने ममता बनर्जी को चेतावनी दी है। उन्होंने एक ट्वीट किया है, जिसमें कहा है कि चुनाव में हार-जीत होती है मर्डर नहीं, इसलिए वे याद रखें कि उन्हें भी दिल्ली आना है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल की जीत के साथ ही भाजपा दफ्तरों और कार्यकर्ताओं पर हमले की घटनाएं हो रही हैं। इस मामले में केंद्रीय मंत्रालय ने राज्य से रिपोर्ट मांगी है।

सांसद ने कहा-
सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने कहा, 'बंगाल में जो कुछ भी हो रहा है वह लोकतंत्र की सेहत के लिए ठीक नहीं है। हमारी सरकार नहीं बनी मगर उसके बाद TMC के गुंडों द्वारा हमारे कार्यकर्ताओं के घरों में रात को महिलाओं से रेप हो रहा है और हमारे 10 कार्यकर्ताओं को जान से मार दिया गया। सांसद ने एक ट्वीट भी किया है, जिसमें लिखा है कि टीएमसी के गुंडों ने चुनाव जीतते ही हमारे कार्यकर्ताओं को जान से मारा, भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ियां तोड़ीं, घर में आग लगा रहे हैं। याद रखना टीएमसी के सांसद, मुख्यमंत्री, विधायकों को दिल्ली में भी आना होगा, इसको चेतावनी समझ लेना। चुनाव में हार-जीत होती है, मर्डर नहीं। इस बयान पर 
एनसीपी नेता नवाब मलिक ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा-हिंसा का समर्थन नहीं हो सकता। हम इसकी निंदा करते हैं, लेकिन भाजपा को राजनीति बंद कर देनी चाहिए। जिस तरह से उनके पूर्व मुख्यमंत्री के लड़के कहते हैं कि लोग याद रखें कि दिल्ली आना है। चेतावनी देना बर्दाश्त नहीं होगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मामले में लिया संज्ञान
बता दें कि 2 मई को चुनाव रिजल्ट आने के साथ ही हुगली में हिंसा भड़क उठी थी। यहां के आरामबाग स्थित भाजपा कार्यालय को आग लगा दी गई थी। मंत्रालय ने प्रदेश में चुनाव के बाद विपक्षी दल के नेताओं को निशाना बनाकर की गई हिंसा की रिपोर्ट राज्य सरकार से मांगी है।

बंगाल हिंसा पर ये नेता भी बोले...

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा-कल रात से लगातार उत्तर बंगाल के सभी सांसदों के संपर्क में हूं।  हत्या, लूट, बलात्कार और आगजनी के समाचार हैं। कार्यकर्ता और कार्यालयों को निशाना बनाया जा रहा है और उनके परिवारों को अपमानित करने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए लड़ाई लड़ी जाएगी। पार्टी का जब  निर्देश होगा और वैसे भी हम बंगाल जाएंगे। देश की पूरी पार्टी बंगाल के कार्यकर्ताओं के साथ है। ये अराजकता और हिंसा उनको भी समझ में आनी चाहिए जो लोकतंत्र की दुहाई देते हैं। उनको भी इस बार खड़े होना पड़ेगा सिर्फ आरोप प्रत्यारोप लगाने से काम नहीं चलेगा।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा-हम जिस प्रकार का मंजर बंगाल में देख रहे हैं, उस पर विश्वास नहीं हो रहा है। बंगाल आज जल रहा है। हमारे कार्यकर्ता हर घड़ी हमारे नेताओं को फोन कर रहे हैं और उनकी एक ही गुहार है हमें बचा लो। बंगाल में जो कुछ हो रहा है वो प्रशासन द्वारा प्रायोजित हिंसा है। आज भाजपा बंगाल में मुख्य विपक्षी पार्टी है और हम ये प्रतिज्ञा करते हैं कि हम अपने कार्यकर्ताओं और उन 2.28 करोड़ बंगालियों जिन्होंने हमारी नीति और विचार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाई उनके साथ खड़े होंगे।

 

@MamataOfficial

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios