Asianet News HindiAsianet News Hindi

'जो कानून पिछली शताब्दी में उपयोगी, वह अगली शताब्दी में बोझ बन जाते हैं', भारत बंद से पहले पीएम की बड़ी बात

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के भारत बंद से एक दिन पहले पीएम मोदी का बड़ा बयान आया। उन्होंने कहा, जो कानून पिछली शताब्दी में बहुत उपयोगी हुए वो अगली शताब्दी के लिए बोझ बन जाते हैं और इसलिए रिफॉर्म की लगातार प्रक्रिया होती चली है।

Cant build new century with old laws PM Modi pitch for reforms amid farmers protest kpn
Author
New Delhi, First Published Dec 7, 2020, 8:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के भारत बंद से एक दिन पहले पीएम मोदी का बड़ा बयान आया। उन्होंने कहा, जो कानून पिछली शताब्दी में बहुत उपयोगी हुए वो अगली शताब्दी के लिए बोझ बन जाते हैं और इसलिए रिफॉर्म की लगातार प्रक्रिया होती चली है।

"पिछली शताब्दी के कानून लेकर के अगली शताब्दी का निर्माण नहीं"
उन्होंने कहा, नई सुविधाओं के लिए, नई व्यवस्थाओं के लिए रिफॉर्म्स बहुत जरूरी हैं। हम पिछली शताब्दी के कानून लेकर के अगली शताब्दी का निर्माण नहीं कर सकते।  

"अब एक संपूर्णता की सोच से रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं"
उन्होंने कहा, लोग अक्सर सवाल पूछते हैं कि पहले की तुलना में अब हो रहे रिफॉर्म्स ज्यादा बेहतर तरीके से काम क्यों करते हैं? पहले की तुलना में अब अलग क्या हो रहा है? कारण बहुत ही सीधा है। पहले रिफॉर्म्स टुकड़ों में होते थे। कुछ सेक्टरों, कुछ विभागों को ध्यान में रखते हुए होते थे। अब एक संपूर्णता की सोच से रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं। 

पीएम ने कहा, अब जैसे शहरों के विकास को ही हम ले लें। शहरों के विकास के लिए हमने 4 स्तरों पर काम किया है। बीते समय से चली आ रही समस्याओं का समाधान हो, जीवन ज्यादा से ज्यादा सुगम हो, ज्यादा से ज्यादा निवेश हो, और शहरों की व्यवस्थाओं में आधुनिक टेक्नॉलॉजी का उपयोग अधिक हो।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios