Asianet News HindiAsianet News Hindi

देखते ही देखते पोर्न साइट पर पहुंच गया MMS, 18 साल पहले स्कूल में बने अश्लील वीडियो से मचा था बवाल

पंजाब में मोहाली स्थित एक यूनिवर्सिटी की 60 छात्राओं का कथित MMS वायरल होने का मामला सामने आया है। बता दें कि चंडीगढ़ के इस MMS कांड ने 18 साल पहले दिल्ली के एक स्कूल में हुए एमएमएस कांड की यादें ताजा कर दी हैं। 2004 में हुए इस कांड से दिल्ली ही नहीं बल्कि पूरे देश में बवाल मचा था। जानते हैं, आखिर क्या था वो मामला?

Chandigarh MMS Case, MMS made in a Delhi school when porn sites reached kpg
Author
First Published Sep 18, 2022, 3:13 PM IST

Chandigarh MMS Video: पंजाब में मोहाली स्थित एक यूनिवर्सिटी की 60 छात्राओं का कथित MMS वायरल होने का मामला सामने आया है। आरोप है कि यूनिवर्सिटी की ही एक छात्रा ने हॉस्टल के बाथरूम में नहाती हुई लड़कियों के वीडियो बनाए और बाद में उन्हें अपने किसी पुरुष मित्र को भेजकर इंटरनेट पर अपलोड करवा दिए। हालांकि, पंजाब पुलिस का कहना है कि छात्रा ने सिर्फ अपने वीडियो ही भेजे थे। बता दें कि चंडीगढ़ के इस MMS कांड ने 18 साल पहले दिल्ली के एक स्कूल में हुए एमएमएस कांड की यादें ताजा कर दी हैं। 2004 में हुए इस कांड से दिल्ली ही नहीं बल्कि पूरे देश में बवाल मचा था। 

स्कूल परिसर में ही फिल्माया गया था MMS :
ये मामला 2004 का है, जब दिल्ली के एक मशहूर स्कूल में ही दो स्टूडेंट्स का अश्लील वीडियो सामने आया था। दोनों नाबालिग थे। वीडियो को लड़के ने अपने कैमरे वाले मोबाइल से रिकॉर्ड किया था। 2004 में कैमरे वाला मोबाइल नया-नया आया था। इस MMS वीडियो से साफ था कि लड़की ये जानती थी कि उसका वीडियो बन रहा है। देखते ही देखते ये MMS वायरल हो गया था। 

देखते ही देखते पोर्न साइट्स पर पहुंच गया MMS:
दिल्ली के उस स्कूल में फिल्माया गया MMS देखते ही देखते पोर्न साइट्स पर पहुंच गया और वायरल होने लगा। बता दें कि 2 मिनट 37 सेकंड के इस वीडियो में लड़के का चेहरा नहीं दिख रहा था। इस वीडियो को लड़के ने ही अपने मोबाइल में रिकॉर्ड किया था। इस MMS कांड ने दिल्ली ही नहीं, बल्कि पूरे देश को हिला कर रख दिया था। इसके बाद मीडिया में इस बात पर भी बहस छिड़ी कि स्टूडेंट्स को कैमरे वाले मोबाइल देने चाहिए या नहीं। 

10 स्टूडेंट को निकाला था स्कूल से : 
दिल्ली के स्कूल में हुए इस MMS कांड के बाद स्कूल ने दोनों स्टूडेंट के अलावा 8 और स्टूडेंट को मोबाइल रखने के चलते स्कूल से निकाल दिया था। इसके बाद स्कूल में मोबाइल ले जाने पर भी बैन लगा दिया गया था। स्कूल की ओर से स्टूडेंट्स और उनके पेरेंट्स को वॉर्निंग दी गई थी कि अगर कोई भी स्टूडेंट स्कूल में मोबाइल लेकर आता है तो उसे जब्त करने के साथ ही 1000 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ ही स्टूडेंट के पेरेंट्स भी इसके लिए जिम्मेदार होंगे। 

इस MMS कांड पर बनी फिल्म : 
इस MMS के बाद 2009 में डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने एक फिल्म बनाई, जिसका नाम देव डी था। कहने को तो यह फिल्म मशहूर उपन्यास 'देवदास' से इंस्पायर थी। लेकिन इस फिल्म के मुख्य किरदारों और दिल्ली स्कूल में हुए  MMS कांड में काफी समानताएं थीं। 

ये भी देखें : 

चंडीगढ़ MMS कांड में नया खुलासा, सिर्फ आरोपी छात्रा का ही वीडियो हुआ वायरल, लड़की का मोबाइल जांच के लिए भेजा

चंडीगढ़ MMS कांड : किसने बनाए छात्राओं के अश्लील वीडियो, कैसे हुए लीक, जानें सबकुछ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios