Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर 1 लाख से अधिक लोगों ने किया रक्तदान, बना विश्व रिकॉर्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर आयोजित रक्तदान अमृत महोत्सव (Raktdaan Amrit Mahotsav) के दौरान एक लाख से अधिक लोगों ने रक्तदान कर विश्व रिकॉर्ड बनाया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इससे पहले 2014 में एक दिन में सबसे अधिक 87,059 लोगों ने रक्तदान किया था। 

On PM Narendra Modi birthday over 1 lakh people donate blood set world record vva
Author
First Published Sep 18, 2022, 9:08 AM IST

नई दिल्ली। 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन था। इस मौके पर देशभर में रक्तदान कैंप का आयोजन किया गया। इस दौरान एक लाख से अधिक लोगों ने रक्तदान कर विश्व रिकॉर्ड बनाया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि रक्तदान अमृत महोत्सव के माध्यम से रक्तदान करने वाले स्वयंसेवकों की संख्या एक लाख को पार कर गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इससे पहले 2014 में एक दिन में सबसे अधिक 87,059 लोगों ने रक्तदान किया था। शनिवार को दिल्ली के सफदरगंज हॉस्पिटल में मनसुख मंडाविया ने रक्तदान किया। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि ई-रक्तकोश पोर्टल पर 2.07 रक्तदाताओं ने रजिस्ट्रेशन कराया है। रक्तदान अमृत महोत्सव के लिए देशभर में 6,112 कैंप लगाए गए थे। 

 

 

2025 तक टीबी मुक्त होगा भारत
9 सितंबर 2022 को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने 2025 तक भारत को टीबी (tuberculosis) से मुक्ति दिलाने के लिए प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान लॉन्च किया था। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान प्रधानमंत्री की नागरिक केंद्रित नीतियों का विस्तार है। अभियान के दौरान टीबी के इलाज के बारे में जागरूकता बढ़ाया जाएगा। टीबी लाइलाज बीमारी नहीं है। इसका इलाज होता है। सरकार इस बीमारी का मुफ्त इलाज उपलब्ध कराती है।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी ने लांच किया राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स पॉलिसी, जानिए इस नीति से आपके जीवन में क्या आएगा बदलाव

प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान को लोगों से अच्छा समर्थन मिल रहा है। करीब 13.5 लाख टीबी रोगियों ने निक्षय पोर्टल पर पंजीकरण कराया है। निक्षय 2.0 पोर्टल टीबी रोगियों के लिए सुविधा प्रदान कर रहा है। यह 2025 तक टीबी को समाप्त करने और कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) के अवसरों का लाभ उठाने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को पूरा करने में सामुदायिक भागीदारी को बढ़ा रहा है। 

यह भी पढ़ें- स्किलिंग, रीस्किलिंग और अपस्किलिंग देश के युवाओं के लिए नया मंत्र: पीएम मोदी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios