Asianet News Hindi

वैक्सीन पर सियासत करने वालों पर बरसे नड्डा, बोले- विपक्ष को भारत की किसी भी उपलब्धि पर गर्व नहीं होता

भारत में सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक की वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है। इसी बीच वैक्सीन को लेकर सियासी बवाल भी शुरू हो गया है। अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर और राशिद आल्वी ने भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को अनुमति मिलने पर सवाल उठाए हैं।

congress leader sashi tharoor and Rashid Alvi questions corona virus vaccine approval KPP
Author
New Delhi, First Published Jan 3, 2021, 3:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत में सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक की वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है। इसी बीच वैक्सीन को लेकर सियासी घमासान भी शुरू हो गया है। अब वैक्सीन पर सवाल उठा रहे विपक्षी दलों पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने निशाना साधा है। नड्डा ने कहा, कांग्रेस और विपक्ष को भारतीय उपलब्धि पर गर्व नहीं होता है। उन्हें आत्मनिरीक्षण करना चाहिए कि कोरोना वैक्सीन पर उनके झूठ का इस्तेमाल निहित स्वार्थी समूहों द्वारा अपने एजेंडे के लिए कैसे किया जाएगा ? भारत के लोग इस तरह की राजनीति को खारिज करते रहे हैं और भविष्य में भी ऐसा करते रहेंगे।

नड्डा ने कहा, नड्डा ने कहा, कोरोना महामारी के भारत में आने के एक साल के भीतर, हमारे वैज्ञानिकों और नवप्रवर्तकों ने वैक्सीन के लिए कड़ी मेहनत की। पूरा देश इस उपलब्धि से खुश है, लेकिन विपक्ष और खासकर कांग्रेस का नेतृत्व इसको लेकर क्रोध, उपहास और तिरस्कार से भरा है।

 


विपक्षी नेता लोगों के मन में डर पैदा कर रहे- नड्डा
जेपी नड्डा ने कहा, अपनी खुद की विफल राजनीति और दकियानूसी एजेंडों को आगे बढ़ाने के लिए, कांग्रेस और अन्य विपक्षी नेता लोगों के मन में डर पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं उनसे अन्य मुद्दों पर राजनीति करने का आग्रह करता हूं, उन्हें लोगों के कीमती जीवन और कड़ी मेहनत की आजीविका से खेलने से बचना चाहिए।

 

कांग्रेस नेताओं ने उठाए थे सवाल
इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर और राशिद आल्वी ने भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को अनुमति मिलने पर सवाल उठाए हैं। शशि थरूर ने पूछा कि जब कोवैक्सीन ने अबतक तीसरे चरण का परीक्षण नहीं किया गया तो उससे पहले इस्तेमाल की अनुमति कैसे दी गई है।  

क्या कहा था थरूर ने?
शशि थरूर ने कहा, कोवैक्सीन का अबतक तीसरे चरण का ट्रायल नहीं किया गया है। ऐसे में इसको दी गई अनुमति अपरिपक्व है और ये कदम जोखिम भरा हो सकता है। उन्होंने इस मामले में डॉ हर्षवर्धन से सफाई मांगी है। जब तक इसका ट्रायल पूरा न हो जाए तब तक इसका प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन को लेकर सबसे बड़ी खबर, भारत में दो वैक्सीन को मिली इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

अखिलेश का डर सही- राशिद आल्वी
उधर, कांग्रेस नेता राशिद आल्वी ने कहा, जिस तरह से भाजपा और पीएम मोदी सीबीआई, इनकम टैक्स, ईडी का इस्तेमाल विपक्ष के खिलाफ कर रही है। उससे लगता है कि अखिलेश यादव का वैक्सीन को लेकर डर सही है। सरकार जिस तरह से विपक्षी नेताओं के खिलाफ काम कर रही है, यह डर सही है। 

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी बोले- दो मेड इन इंडिया वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिली, यह गर्व की बात
 
अखिलेश यादव ने कहा- वैक्सीन नहीं लगवाएंगे
सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा था, मैं भाजपा के टीके पर कैसे यकीन कर सकता हूं। जब राज्य में हमारी सरकार बनेगी तो सभी प्रदेश वासियों को मुफ्त वैक्सीन दी जाएगी। लेकिन फिलहाल हम भाजपा का टीका नहीं ले सकते।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios