कोरोना की नई गाइडलाइन जारी, 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए मास्क जरूरी नहीं

| Jan 21 2022, 01:48 AM IST

कोरोना की नई गाइडलाइन जारी, 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए मास्क जरूरी नहीं

सार

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बच्चों के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी की है। इसमें 5 साल तक के बच्चों के लिए मास्क की सिफारिश नहीं की गई है।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बच्चों के लिए नई कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) जारी की है। इसमें 5 साल तक के बच्चों के लिए मास्क की सिफारिश नहीं की गई है। 6 से 11 साल के बच्चे माता-पिता की देखरेख में मास्क पहन सकते हैं। 12 साल और उससे ज्यादा उम्र के किशोरों को वयस्कों की तरह ही मास्क पहनना चाहिए।

18 साल से कम उम्र के बच्चों के संक्रमित होने पर एंटीवायरल या मोनोक्लोनल एंटीबॉडी का इस्तेमाल नहीं करने का सुझाव दिया गया है। भले ही संक्रमण की गंभीरता कैसी भी हो। अगर उन्हें स्टेरायड दिया जाता है तो इसे क्लिनिकल इम्प्रूवमेंट के आधार पर 10 से 14 दिनों में कम करने के लिए कहा गया है। गाइडलाइन के अनुसार कोविड-19 एक वायरल संक्रमण है और जटिल कोविड-19 संक्रमण के इलाज में रोगाणुरोधी (Antimicrobials) दवाओं की कोई भूमिका नहीं है। बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले मामलों में भी इलाज के लिए रोगाणुरोधी दवाओं की सिफारिश नहीं गई है।

Subscribe to get breaking news alerts

गाइडलाइन में कहा गया है कि मध्यम और गंभीर मामलों में भी रोगाणुरोधी दवाओं का इस्तेमाल तब तक नहीं किया जाना चाहिए जब तक कि सुपरएडेड संक्रमण का क्लीनिकल ​​संदेह न हो। कोविड -19 के बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले मामलों में स्टेरॉयड नहीं देना चाहिए। यह हानिकारक है। बिना डॉक्टर की सलाह के खुद से स्टेरॉयड का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

नए संक्रमितों का आंकड़ा 3 लाख के पार
देश में गुरुवार को 3.17 लाख नए केस मिले हैं। इस दौरान 2.23 लाख लोग ठीक हुए, जबकि 491 लोगों की मौत हुई है। देश में 8 महीने बाद नए संक्रमितों का आंकड़ा 3 लाख के पार पहुंचा है। दूसरी लहर में केस घटने के दौरान 15 मई को 3.11 लाख केस मिले थे। एक्टिव केस यानी इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 91 हजार 519 की बढ़ोतरी दर्ज की गई। फिलहाल देश में 19.24 लाख एक्टिव केस हैं। देश में पहली बार 2 लाख से ज्यादा मरीज(2,23,990) ठीक भी हुए हैं।

 

ये भी पढ़ें

Covid-19 से मौतों से फिर सहमी Delhi, एक दिन में हुई 43 मौत, RT-PCR रेट में कटौती

Vaccine Update : स्पुतनिक V का दावा - फाइजर की तुलना में यह ओमीक्रोन के खिलाफ दो गुना ज्यादा असरदार