नई दिल्ली. यह अच्छी खबर है कि पिछले 24 घंटे में कोरोना मामलों में 16 हजार से अधिक की कमी आई है। एक दिन में भारत में 2.57 लाख नए केस मिले हैं। जबकि इससे एक दिन पहले 18 अप्रैल को 2,73,802 नए केस सामने आए थे। भारत में 5 अप्रैल के बाद जिस स्पीड से कोरोना संक्रमण फैल रहा, उसने सारे देश को चिंता में डाल दिया था। लेकिन संक्रमण रोकने विभिन्न राज्यों की सख्ती-लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू का असर दिखाई देने लगा है। अगर कोरोना संक्रमण के डर से लोग घर में बैठे, बेवजह बाहर नहीं निकले, तो यह डर अच्छा है। हालांकि कोरोना का यह ट्रेंड आगे भी जारी रहेगा, ऐसा नहीं कहा जा सकता है, लेकिन लॉकडाउन और कोरोना गाइडलाइन का पालन करने से संक्रमण को रोकने में मदद मिलेगी।

इस तरह बढ़ते गए थे केस

तारीख     केस
5 अप्रैल    96563
6 अप्रैल  115312
7 अप्रैल     126276
8 अप्रैल     131878
9 अप्रैल     144945
10 अप्रैल    152565
11 अप्रैल    169914
12 अप्रैल     160838
13 अप्रैल     185297
14 अप्रैल     199584
16 अप्रैल     2,34,692
17 अप्रैल    2,61,394
18 अप्रैल   2,73,802
19 अप्रैल    2,57,003

वैक्सीनेशन से मिलेगा फायदा
सोमवार को केंद्र सरकार ने 18+ को वैक्सीनेट करने का बड़ा ऐलान किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने इसकी घोषणा की। इसके तहत सेंट्रल ड्रग्स लैबोरेटरी से जारी होने वाले 50 प्रतिशत डोज केंद्र सरकार को मिलेंगे। केंद्र सरकार इन्हें केंद्र शासित प्रदेशों और आवश्यकतानुसार विभिन्न राज्यों को बांटेगा। इसके साथ ही 1 मई, 2021 से पहले ड्रग्स लैबोरेटरी को डोज की कीमत सार्वजनिक करनी होंगी। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के अनुसार, भारत में 19 अप्रैल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 26,94,14,035 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 15,19,486 सैंपल कल टेस्ट किए गए। वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ने से संक्रमण को रोकना प्रभावी होगा। देश में कुल 12,71,29,113 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।

टॉप 10 संक्रमित राज(24 घंटे में)

राज्य     कुल केस
महाराष्ट्र      58,924
उत्तर प्रदेश    28,211
दिल्ली     23,686
कर्नाटक     15,785
छत्तीसगढ़    13,834
केरल     13,644
मध्यप्रदेश     12,897
राजस्थान     11,967
गुजरात      11,403
तमिलनाडु      10,941


डबल म्यूटेशन वाला वैरिएंट है चिंता का विषय
कोरोना की दूसरी लहर के तेजी से फैलने की वजह डबल म्यूटेंट वाला वैरिएंट माना जा रहा है। महाराष्ट्र में 61 प्रतिशत सैम्पल की जीनोम सीक्वेंसिंग में इसकी पुष्टि हुई थी। यह डबल म्यूटेंट वायरस महाराष्ट्र, दिल्ली, मध्यप्रदेश, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखंड को संक्रमित करता हुआ देश के करीब 10 राज्यों में पहुंच चुका है। इसी वजह से यहां अधिक केस आ रहे हैं। जानीमानी वैक्सीन साइंटिस्ट और वेल्लोर के क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी प्रोफेसर डॉ. गगनदीप कंग बताती हैं कि जब वायरस एक शरीर से दूसरे शरीर में एंटर होता है, तो उसका स्वरूप बदल जाता है। इसे ही वैरिएंट्स कहते हैं।

चुनाव वाले राज्यों का हाल

राज्य     कुल केस
केरल     13,644
तमिलनाडु     10,941
पश्चिम बंगाल      8,426
असम      1,367
पुडुचेरी    565

(सोर्स-covid19india.org)

भारत में मौत का आंकड़ा
भारत में कोरोन से अब तक 1,80,550 मौतें हो चुकी हैं। पिछले 24 घंटे में 1,757 लोगों की मौतें हुईं। देश में अब तक 1,53,14,714 केस आ चुके हैं। इनमें से 1,31,03,220 रिकवर हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में ही 1,54,234 लोग रिकवर हुए। इस समय 20,24,629 एक्टिव केस हैं। सरकार के सर्वे के मुताबिक, भारत में मौत का आंकड़ा 0.08 प्रतिशत है। जबकि अमेरिका में यह 0.06 है। यानी भारत से 8 गुना अधिक। इसके पीछे भारत में युवा आबादी अधिक है, जिससे मौत का आंकड़ा अधिक नहीं बढ़ेगा।