Asianet News Hindi

COVID 19: तीन गुना स्पीड से बढ़ रही दूसरी लहर, यही रहा ट्रेंड तो मई तक एक्टिव केस होंगे 1.4 करोड़

कोविड 19 की दूसरी लहर ने महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित देश के कई राज्यों में हालात गंभीर कर दिए हैं। दूसरी लहर में पॉजिटिव केस तेजी से बढ़ रहे हैं। हर दिन के मुकाबले शनिवार को 9 हजार केस अधिक दर्ज किए गए। इस बीच केंद्र सरकार ने हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के वैक्सीनेशन के लिए होने वाले नए रजिस्ट्रेशन पर रोक लगा दी है। दरअसल, शिकायतें मिली थीं कि इनके नाम पर बिना क्राइटेरिया वाले भी वैक्सीन लगवा रहे थे। अक्षय कुमार भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर पोस्ट लिखते हुए बताया कि वे होम क्वारेंटाइन हैं। जरूरी मेडिकल मदद ले रहे हैं। उन्होंने संपर्क में आए लोगों से जांच कराने को कहा है।

current situation of covid 19 in India, the government is strict about the guideline kpa
Author
Delhi, First Published Apr 4, 2021, 7:44 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. शनिवार को भारत में कोरोना के रेकॉर्ड 93,000 नए मामले सामने आए हैं जो बीते करीब 5 महीनों में एक दिन में सबसे ज्यादा मामले हैं। कोरोना वायरस को लेकर बेंगलुरु स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस(IISC) ने एक रिसर्च की है। इसके अनुसार अगर कोरोना का मौजूदा ट्रेंड जारी रहा, तो मई के अंत तक भारत में एक्टिव केस की संख्या 1.4 करोड़ पार कर सकती है। इस समय यह करीब 3.2 लाख है। यानी अप्रैल के मध्य तक संक्रमण अपने पीक पर होगा। यानी एक्टिव केस 7.3 लाख तक जा सकते हैं। अक्षय कुमार भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर पोस्ट लिखते हुए बताया कि वे होम क्वारेंटाइन हैं। जरूरी मेडिकल मदद ले रहे हैं। उन्होंने संपर्क में आए लोगों से जांच कराने को कहा है।

IISC के प्रोफेसर शशि‍कुमार और दीपक के अनुमान के मुताबिक, अकेले कर्नाटक में अप्रैल के अंत तक केसों की संख्या 10.7 लाख तक पहुंच सकती है। बता दें कि भारत में अब तक 12.4M केस आ चुके हैं। इनमें रिकवर 11.6M हो चुक हैं।  164K की मौत हो चुकी है। दुनियाभर में अब तक 131M केस आ चुके हैं। इनमें 74M रिकवर हो चुके हैं, जबकि 2.84M की मौत हो चुकी है।

गाइड के उल्लंघन पर सख्ती
केंद्रर सरकार ने हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के वैक्सीनेशन के लिए होने वाले नए रजिस्ट्रेशन पर रोक लगा दी है। इसके लिए सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश जारी कर दिए हैं। दरअसल, केंद्र सरकार को शिकायतें मिली थीं कि इनकी आड़ में बिना क्राइटेरियावाले लोग भी वैक्सीन लगवा रहे हैं। पहले हेल्थ केयर वर्कर्स का रजिस्ट्रेशन 25 फरवरी को और फ्रंटलाइन वर्कर्स का 6 मार्च को बंद किया जाना था। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे खत में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा है कि 45 साल या उससे ज्यादा उम्र के लोगों का रजिस्ट्रेशन CoWIN पोर्टल पर जारी रहेगा। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा-हमारे पड़ोसी राज्यों में स्थिति बहुत बुरी है, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में स्थिति संकटपूर्ण है। हमने महाराष्ट्र की सीमा को सील किया है, छत्तीसगढ़ से आने-जाने पर भी प्रतिबंध लगेगा।

यह भी जानें

  • हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, वैक्सीनेशन ड्राइव के तहत शनिवार तक देशभर में वैक्सीन के 7.44 करोड़ डोज दिए गए हैं। शनिवार को 11,86,621 लोगों को पहली और 1,13,525 को दूसरी खुराक दी गई। अब तक 6,43,51,716 लोगों को फर्स्ट और 1,00,90,551 लोगों को सेकेंड डोज दी जा चुकी है। बता दें कि वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत 16 जनवरी से की गई थी। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू हुआ है। 
  • दूसरी लहर में एक दिन में केस 20 हजार से 80 हजार पहुंचने में सिर्फ 20 दिन लगे। पिछले साल पहली लहर में 64 दिन लगे थे। शनिवार को 714 मौतें भी हुईं। इनमें महाराष्ट्र समेत 5 राज्यों से ही 86% मौतें हैं।
  • भारत में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 93,249 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,24,85,509 हुई। 513 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,64,623 हो गई है। 
  • देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 6,91,597 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,16,29,289 है।

 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios