दार्जिलिंग. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को दार्जिलिंग पहुंचे हैं। दार्जिलिंग में उन्होंने सुकना में सेना के 33वें कोर मुख्यालय पहुंचकर पूर्वी सेक्टर की स्थितियों और सैन्य तैयारियों का जायजा लिया। इसके साथ ही उन्होंने कैंप के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों से भी बातचीत की। सूत्रों के मुताबिक, अपनी यात्रा के दौरान रक्षा मंत्री दशहरा के मौके पर वहां 'शस्त्र पूजा' भी करेंगे। इसके साथ ही बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन  (BRO) द्वारा निर्मित बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे। दार्जिलिंग के बाद रक्षा मंत्री सिक्किम का दौरा करेंगे।

BRO द्वारा निर्मित परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन

रक्षा मंत्री राजनाथ दार्जिलिंग में भारतीय जवानों का मनोबल बढ़ाने पहुंचे हैं। जानकारी के मुताबिक, भारत - चीन सीमा विवाद के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह यहां पहुंचने पर चीन को भारत का स्पष्ट संदेश देने के लिए दशहरे के मौके पर वह लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LOC) पर सैनिकों के साथ शस्त्र पूजा भी करेंगे। बता दें कि गुरूवार को रक्षा मंत्रालय ने जानकारी दी थी कि रक्षा मंत्री 24 और 25 अक्टूबर को दार्जिलिंग और सिक्किम में रहेंगे। इस दौरान वे सिक्किम में बीआरओ द्वारा निर्मित कईं सड़क परियोजनाओं और पुलों का उद्घाटन करेंगे।

पिछले साल राफेल का शस्त्र पूजन किया था रक्षा मंत्री ने

मालूम हो कि हिंदू मान्यताओं के अनुसार, दशहरा के मौके पर शत्रुओं पर विजय प्राप्ति के लिए शस्त्र पूजा किये जाने की प्रथा है। इससे पहले रक्षा मंत्री ने पिछले साल दशहरे के मौके पर भारत आने वाले दुनिया के सबसे उन्नत और लड़ाकू  राफेल विमानों की शस्त्र पूजा की थी जिसके लिए वे फ्रांस गए थे।