Asianet News Hindi

दिल्ली से हर दिन 190 फ्लाइट्स भरेंगी उड़ान, लेकिन 8 राज्यों में यात्रियों को होना होगा क्वारंटाइन

नागरिक उड्डयन मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन) ने 25 मई से घरेलू उड़ाने शुरू करने का फैसला लिया है। लेकिन, महाराष्ट्र सरकार ने अब भी लॉकडाउन का फॉलो करने के लिए कहा है। राज्य में 31 मई तक लॉकडाउन प्रभावी रहेगा।

Delhi is Ready for flights but maharastra not yet Approved passengers will have to quarantine in 8 states KPY
Author
New Delhi, First Published May 24, 2020, 8:12 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. नागरिक उड्डयन मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन) ने 25 मई से घरेलू उड़ाने शुरू करने का फैसला लिया है। लेकिन, महाराष्ट्र सरकार ने अब भी लॉकडाउन का फॉलो करने के लिए कहा है। राज्य में 31 मई तक लॉकडाउन प्रभावी रहेगा। अभी तक राज्य सरकार ने ना लॉकडाउन नियमों में बदलाव किया है और ना ही उड़ानों को मंजूरी दी है। पंजाब और छत्तीसगढ़ जैसे 8 राज्यों ने कहा है कि राज्य में लैंड करने वाले यात्रियों को क्वारंटाइन होना होगा।

इन राज्यों ने लिया है यात्रियों को क्वारंटाइन करने का फैसला 

1. पंजाबः मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य में विमान, ट्रेन या बस से आने वाले सभी यात्रियों को अनिवार्य तौर पर 14 दिन के होम क्वारंटाइन में जाना होगा। 

2. अंडमान-निकोबारः प्रशासन ने भी वहां जाने वाले सभी विमान यात्रियों के लिए सख्त स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) तय किया है। सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। उन्हें 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन में जाना होगा।

3. छत्तीसगढ़ः मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि 25 मई से राज्य में आने वाले सभी विमान यात्रियों को 14 दिन के इंस्टिट्यूशन क्वारंटाइन पीरियड में जाना होगा। उन्होंने कहा कि घरेलू उड़ानों के शुरू होने के बाद संक्रमण फैलने की आशंका को दरकिनार नहीं किया जा सकता है।

4. कर्नाटकः राज्य सरकार ने कहा है कि राज्य में महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, दिल्ली, राजस्थान और मध्य प्रदेश से किसी भी माध्यम से आने वाले यात्रियों को 7 दिन के इंस्टिट्यूशन और 7 दिन के होम क्वारंटाइन में जाना होगा। 

5. केरल, असम, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेशः इन राज्यों में विमान यात्रियों को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन में जाना होगा।

6. उत्तराखंडः यात्रियों को 10 दिन के लिए होटल या सरकारी जगह पर क्वारंटाइन होना होगा।

7. गोवाः राज्य सरकार चाहती है कि राज्य में यात्रा करके आने वाले सभी यात्रियों का एंटी बॉडी टेस्ट किया जाए।

8. दिल्ली में एयरपोर्ट पर थर्मल स्कैनर से जांच होगी।

यात्रियों के फोन में आरोग्य सेतु ऐप जरूरी 

बता दें, दिल्ली से आने-जाने वाली सभी घरेलू उड़ानें इंदिरा गांधी हवाई अड्‌डे के टर्मिनल-3 से ऑपरेट होंगी। दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डीआईएएल) ने मीडिया से बातचीत में कहा कि प्रवेश के दौरान सीआईएसएफ थर्मल स्कैनर से तापमान की जांच करेगी। यात्रियों के फोन पर आरोग्य सेतु ऐप होना जरूरी होगा।

15 मई को इस समय होगी पहली फ्लाइट 

डीआईएएल के सीईओ विदेह जयपुरियर ने कहा कि पहली फ्लाइट 25 मई को शाम 4.30 बजे की है। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए सभी व्यवस्थाएं की गई हैं कि यात्रियों की बोर्डिंग टचलेस हो। इसलिए, आप घर से बोर्डिंग पास का प्रिंट लेकर आएं या स्कैन-एंड-फ्लाई कियोस्क का उपयोग करें। यदि कोई भ्रम है तो यात्री हवाई अड्डे के कर्मचारियों से संपर्क कर सकते हैं।

दिल्ली से रोज 190 फ्लाइट्स भरेंगी उड़ान 

सरकार ने एक तिहाई उड़ानों की अनुमति दी है, इसलिए अब दिल्ली हवाई अड्डे से रोज 190 उड़ानें रवाना होंगी और उतनी ही संख्या में विमान यहां पर उतारे जाएंगे। रोज लगभग 20 हजार यात्रियों के एयरपोर्ट आने की संभावना है। कोविड -19 के संक्रमण को देखते हुए, देश में नियमित यात्री उड़ानों को 25 मार्च से पूरी तरह रोक दिया गया था। दो महीने बाद,  25 मई से, एक तिहाई उड़ानों को शुरू करने की अनुमति दी गई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios