Asianet News HindiAsianet News Hindi

मात्र 18 दिनों में दिल्ली ने खोए 2 मुख्यमंत्री, 1 ही बीमारी ने ली जान

कल देर रात अचानक भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की मौत की खबर ने सभी को सदमे में डाल दिया। बीते महीने 20 जुलाई को दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का भी निधन हो गया था। को-इंसीडेंस की बात ये है कि सुषमा स्वराज भी दिल्ली की सीएम रही थीं। साथ ही दोनों की मौत कार्डिएक अरेस्ट के कारण ही हुई। 

Delhi loses two former chief ministers back to back due to cardiac arrest
Author
New Delhi, First Published Aug 7, 2019, 10:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: कल देर रात कार्डिएक अरेस्ट के बाद सुषमा स्वराज को दिल्ली के एम्स में एडमिट करवाया गया था। जिसकी थोड़ी देर बाद खबर आई कि उनका निधन हो गया। इस खबर के बाद पूरे राजनितिक जगत में हलचल मच गई। 

वैसे तो सुषमा स्वराज काफी लंबे समय से बीमार चल रही थीं। इसी कारण उन्होंने इस साल लोकसभा चुनाव लड़ने से भी मना कर दिया था। 

पहले शीला दीक्षित, अब सुषमा स्वराज 
मात्र 18 दिनों के अंतराल में इंडियन पॉलिटिक्स की दो महान नेता, शीला दीक्षित और सुषमा स्वराज ने दुनिया को अलविदा कर दिया। 20 जुलाई को शीला दीक्षित की मौत हुई थी तो 6 अगस्त को सुषमा स्वराज की मौत हो गई। 

दिल्ली ने खोए दो मुख्यमंत्री 
इसे मात्र संयोग ही कहेंगे कि ये दोनों ही नेता दिल्ली की सीएम रही थीं। सुषमा स्वराज दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री रही थी। उन्होंने 13 अक्टूबर 1998 को सीएम का पदभार ग्रहण किया था। लेकिन इसके कुछ ही हफ्ते बाद यानी 3 दिसंबर 1998 को उनकी कुर्सी चली गई। सुषमा के जाने के बाद ही शीला दीक्षित ने दिल्ली एक सीएम का पदभार ग्रहण किया था। 

सुषमा ने 2 तो शीला ने 15 साल किया दिल्ली पर राज 
सुषमा स्वराज ने दिल्ली के सीएम चेयर पर 2 महीने से कम वक्त बिताया तो वहीं शीला दीक्षित ने लगातार 15 साल दिल्ली पर राज किया। 

एक ही बीमारी से मौत 
संयोग देखिये कि दिल्ली इन दोनों मुख्यमंत्रियों का निधन भी एक ही बीमारी के कारण हुआ। दोनों को ही अचानक दिल का दौरा पड़ा था। दोनों को अस्पताल ले जाया गया लेकिन इनको बचाया नहीं जा सका। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios