मुंबई. महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद सरकार गठन पर सस्पेंस बना हुआ है। इस बीच देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को इस्तीफा सौंपा। बता दें कि 9 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ खबर है कि शिवसेना नेता संजय राउत ने शरद पवार से उनके घर पर मुलाकात की। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा को 105, शिवसेना को 56, कांग्रेस को 44, एनसीपी को 54 और अन्य ने 28 सीटों पर जीत हासिल की।

लोगों ने हमारे काम पर भरोसा किया :  फडणवीस
लोगों ने हमारे काम की वजह से हम पर भरोसा किया और दोबारा सेवा का मौका दिया। इस बार हमारी सीटें थोड़ी कम रह गईं। उन्होंने कहा कि मैंने 5 साल तक प्रदेश की सेवा की। महाराष्ट्र की जनता ने महागठबंधन को जनादेश दिया। इस चुनाव में बीजेपी की जीत की दर बढ़ी। हमें उम्मीद के मुताबिक सीटें नहीं मिलीं। चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी।  

ढाई साल का मुख्यमंत्री पद मांगना एक बहाना था :  फडणवीस
उन्होंने कहा कि पारदर्शिता के साथ हमने सरकार चलाने की कोशिश की। शिवसेना के साथ ढाई ढाई साल का कोई वादा नहीं हुआ था। अमित शाह के साथ हुई बैठक में कोई चर्चा नहीं हुई थी। मैंने खुद फोन करउद्धव ठाकरे से बात की थी।

अमित शाह से 50-50 फार्मूले से किया था इनकार : फडणवीस
शिवसेना और बीजेपी के बीच सीएम पद के लिए 50-50 पर मेरे सामने कभी कोई निर्णय नही हुआ। मैंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी से भी इस बारे में पूछा, लेकिन उन्होंने भी सीएम के लिए 50-50 फार्मूले पर किसी भी तरह के फैसले से इनकार किया।