नई दिल्ली. भारत में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। इसी बीच राहत की खबर सामने आई है। दरअसल, केंद्र के दखल के बाद रेमडेसिविर के दाम घट गए हैं। यह जानकारी केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने दी। इतना ही नहीं उन्होंने दवा कंपनियों को कोरोना के खिलाफ जंग में कदम मिलाने के लिए धन्यवाद कहा।

पिछले दिनों देश के कई शहरों से रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी और कालाबाजारी के मामले सामने आए थे। बढ़ती मांग को देखते हुए सरकार ने कोरोना के इलाज में इस्तेमाल की जा रही रेमडिसविर दवा के उत्पादन को बढ़ाने का फैसला किया। इतना ही नहीं सरकार ने रेमडिसविर दवा की उपलब्धता और दामों को लेकर निर्माताओं के साथ भी बात की थी। इसके बाद दवा के उत्पादन को बढ़ाने और कम दामों पर सप्लाई करने का फैसला लिया गया था। 

70% तक कम हुए रेमडेसिविर इंजेक्शन के दाम




कब इस्तेमाल होता है रेमडिसविर इंजेक्शन
कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के बीच रेमडिसविर को रामबाण बताया जा रहा है। कोरोना से संक्रमित होने के बाद इलाज के दौरान रेमेडिसविर का इस्तेमाल किया जाता है। यह काफी हद तक असरदार साबित हुई है। हालांकि, पिछले दिनों देश के तमाम हिस्सों से दवा की कमी की खबरें भी सामने आईं।