Asianet News Hindi

नीरव-मेहुल चोकसी को मोदी सरकार ने दिया बड़ा झटका, हॉन्ग कॉन्ग से 1350 करोड़ की ज्वैलरी हुई जब्त

पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को बड़ा झटका लगा है। भारतीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को हॉन्ग कॉन्ग से नीरव मोदी और चोकसी की फर्म से 1350 करोड़ रुपए की ज्वेलरी जब्त की है। जब्त की गई ज्वेलरी में हीरे, मोती और अन्य तरह की ज्वेलरी शामिल है।

ED brings back Nirav Modi and Mehul Choksi jewellery Rs 1350 Crores from Hong Kong KPP
Author
New Delhi, First Published Jun 10, 2020, 6:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को बड़ा झटका लगा है। भारतीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को हॉन्ग कॉन्ग से नीरव मोदी और चोकसी की फर्म से 1350 करोड़ रुपए की ज्वेलरी जब्त की है। जब्त की गई ज्वेलरी में हीरे, मोती और अन्य तरह की ज्वेलरी शामिल है। 

बताया जा रहा है कि ईडी लंबे वक्त से इस संपत्ति को जब्त करने की कोशिश में जुटी थी। ये ज्वेलरी हॉन्ग कॉन्ग में कंपनी के गोडाउन में थी। इस ज्वेलरी को आज मुंबई लाया जाएगा। इसका वजन करीब 2340 किलो है। 

 

 
कोर्ट ने दिया 1400 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त करने का आदेश
इससे पहले मंगलवार को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट कोर्ट ने नीरव मोदी को बड़ा झटका दिया था। कोर्ट ने मनी लॉन्‍ड्रिंग केस के तहत नीरव मोदी की सभी संपत्तियां जब्‍त करने के आदेश दिया। नीरव की ये संपत्तियां मुंबई, दिल्ली, जयपुर, अलीबाग, सूरत में हैं। इनकी कीमत 1400 करोड़ रुपए बताई गई है।

पहले भी सामानों की हो चुकी नीलामी 
नीरव मोदी और मेहुल चोकसी द्वारा किए गए घोटाले की जांच ईडी, सीबीआई समेत तमाम एजेंसियां कर रही हैं। भारतीय एजेंसियों की यह पहली कार्रवाई नहीं है। इससे पहले भी एजेंसियों ने नीरव के सामान को जब्त कर नीलाम किया था। 

13500 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप
नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर पीएनबी बैंक से 13,500 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है। इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ जांच चल रही है। नीरव मोदी लंदन में जेल में बंद है। भारतीय एजेंसियां उसके प्रत्यर्पण की कोशिशों में जुटी हैं। वहीं, चोकसी एंटीगुआ में है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios