नई दिल्ली. बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन भर्ती (Border Roads Organisation) एक और कीर्तिमान बनाने जा रहा है। दरअसल, BRO अरुणाचल प्रदेश के तवांग के सेला पास के पास में दुनिया की सबसे ऊंची टनल बना रहा है। यह सुरंग 13000 फीट की ऊंचाई पर बन रही है और 2022 तक बनकर तैयार होने की उम्मीद है। 

एक अफसर ने Asianet Newsable से खास बातचीत में हमारे सहयोगी अनीश सिंह को बताया कि सुरंग के जरिए सेला पास को बायपास करने की योजना है। यह टनल 2022 तक बनकर तैयार हो जाएगी। 

इस सुरंग के बनने के बाद सेना को काफी मदद मिलेगी। इससे तेजपुर में स्थित आर्मी कैंप से एलएसी की दूरी तय करने में 1 घंटा कम समय लगेगा। 

पिछले साल पीएम ने दुनिया की सबसे ऊंची टनल का किया था उद्धाटन
पिछले साल अक्टूबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश में दुनिया की सबसे ऊंची अटल टनल का उद्धाटन किया था। यह टनल 10000 फीट की ऊंचाई पर है। 

बीआरओ के महानिदेशक ने की सुरंग की शुरुआत
बीआरओ के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी ने टनल के दक्षिण सिरे पर ब्लास्टिग कर टनल की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने, देश की क्षेत्रीय अखंडता को सुनिश्चित करने में अपने प्राण न्योछावर करने वाले बहादुर जवानों की सराहना की। 

पिछले 6 दशक से बीआरओ सुरक्षा बलों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए प्रतिकूल जलवायु परिस्थितियों में सबसे दुर्गम इलाके में सड़क, पुल, हवाई क्षेत्र और टनल का काम करके स्थानों और लोगों को जोड़ने का काम कर रही है।