Asianet News Hindi

पुलिसवाले ने मारी किसान की सब्जियों पर लात, वीडियो हुआ वायरल, तो SP ने सुनाई एक कहानी

मध्य प्रदेश के रीवा की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है। इसमें देख सकते हैं कि SP की गाड़ी समीप खड़ी है और एक पुलिसवाला किसी गांववाले की सब्जी के बोरे को लात मारकर गिरा रहा है। आरोप है कि पुलिस खेतों से सब्जी लेकर जा रहे किसानों को परेशान कर रही है। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें पुलिसवाला लात मारकर सब्जी गिराते दिख रहा है। लेकिन पुलिस इसकी एक अलग कहानी बता रही है। जानिए तस्वीर के पीछे की कहानी...

Fake checker, the truth of the viral picture in the Corona era, an attempt to tarnish the image of the police kpa
Author
Rewa, First Published May 7, 2021, 3:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रीवा, मध्य प्रदेश. मध्य प्रदेश के रीवा की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है। इसमें देख सकते हैं कि SP की गाड़ी समीप खड़ी है और एक पुलिसवाला किसी गांववाले की सब्जी के बोरे को लात मारकर गिरा रहा है। आरोप है कि पुलिस खेतों से सब्जी लेकर जा रहे किसानों को परेशान कर रही है। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें पुलिसवाला लात मारकर सब्जी गिराते दिख रहा है। लेकिन पुलिस इसकी एक अलग कहानी बता रही है। रीवा एसपी राकेश कुमार सिंह इस मामले पर अपना अलग तर्क देते हैं।

पहले जानें सोशल मीडिया पर क्या शेयर किया गया...
फेसबुक पर यह तस्वीर शेयर करते हुए लिखा गया-यह तस्वीर गुरुवार की रीवा शहर के सीमांत की है। एक किसान अपने खेत से सब्जियां लेकर ग्राहकी की गरज से शहर की ओर चलता है। सामने पुलिस कप्तान का काफिला आकर रुकता है(बगल में जो कार खड़ी है)। बस क्या..! पीछे के फालो वाहन से सिपाही गैंग उस किसान पर ऐसे टूट पड़ता है, जैसे कि किसी भटके हिरण पर भेड़िए। बाकी सबकुछ फोटो में देख लीजिए। क्या आम आदमी के पेट पर लात और पीठ पर डंडे पड़ने से ही कोरोना की चेन टूटेगी..? क्या अस्पताल में दम तोड़ रहे बेटे के लिए दवा लेकर जा रहे बेबस बाप की लाठियों से कमर तोड़ने से ही कोरोना की चेन टूटेगी..? इतनी जलालत से बेहतर है कि आदमी कोरोना से ही मर जाए..?

क्या पेट पर लात व पीठ पर डंडे मारने का आदेश मोदी या कि शिवराज ने दिया है..? क्या सांसद, प्रभारी मंत्री, विधायकगणों से सुसज्जित जिले की आपदा प्रबंधन समिति ने पुलिस को ऐसा पराक्रम दिखाने को कहा है..?  आज हर विंध्यवासी की जुबान पर है कि काश आज यमुना प्रसाद शास्त्री (रीवा से सांसद रहे और विंध्य की राजनीति का जाना-माना नाम) होते..तो जान की परवाह किए बगैर पुलिस की लात और गरीब के पेट की बीच डटकर खड़े हो जाते!  और अब के अपने जनप्रतिनिधि..? मत पूछिए तो ही अच्छा..।

अब पुलिस का तर्क सुनिए
इस तस्वीर की कहानी एसपी राकेश कुमार सिंह अलग बताते हैं-'मैं किसानों से खेतों में जाकर चर्चा(संक्रमण रोकने की दिशा में पहल) कर रहा था। तभी सिपाही ने देखा कि एक किसान का सब्जी से भरा बोरा बाइक से गिर रहा है। सिपाही ने ग्लब्ज नहीं पहने थे, इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से अपने पैर से बोरे को गिरने से रोक लिया। रीवा शहर क्षेत्र में संक्रमितों की संख्या 152 से 43 पर आ गई है। हालांकि अब तक 85 पुलिस के लोग संक्रमित हो चुके हैं। 

हालांकि सोशल मीडिया पर इस घटना का एक छोटा-सा वीडियो भी वायरल हुआ है। इसमें कहा जा रहा है कि पुलिस किसानों को परेशान कर रही है। इस संबंध में कई लोगों ने सोशल मीडिया पर कमेंट्स भी लिखे हैं। 

यह भी जानें: रीवा में अब तक 12,441 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से अभी 2,332 एक्टिव हैं, जबकि 10,556 लोग रिकवर हो चुके हैं। इनमें से 59 की मौत हो चुकी है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios