मुंबई. महाराष्ट्र के पुणे में स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्लांट में 4 घंटे बाद दोबारा आग लग गई। इससे पहले इमारत में दोपहर 2 बजे आग लगी थीा। हादसे में 5 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं, 6 लोगों का रेस्क्यू किया गया। आग मंजरी स्थित सीरम इंस्टीट्यूट प्लांट के टर्मिनल 1 गेट पर 5वें और 6वें फ्लोर पर लगी। बताया जा रहा है कि जिस इमारत में आग लगी, वह अंडर कंस्ट्रक्शन है। 

सीरम इंस्टीट्यूट ही ऑक्‍सफर्ड यूनिवर्सिटी और एस्‍ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन 'कोविशील्ड'  बना रहा है। भारत में इसी वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिली है। भारत में चल रहे वैक्सीनेशन प्रोग्राम में भी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और कोविशील्ड का इस्तेमाल हो रहा है। 

5 लोगों के मिले शव- पुणे मेयर
पुणे मेयर ने मुर्लीधर माहोल ने बताया कि 5 लोगों को बिल्डिंग से सुरक्षित निकाला गया। लेकिन जब आग काबू हुई तो बिल्डिंग में 5 जले हुए शव मिले हैं। 

पीएम मोदी ने जताया दुख
पीएम मोदी ने ट्वीट किया, सीरम इंस्टीट्यूट में आग की घटना से हुए जानमाल के नुकसान से दुखी हूं। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उन परिवारों के साथ हैं, जिन्होंने हादसे में जान गंवाई है। घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं। 

राष्ट्रपति कोविंद ने भी जताया दुख
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, जिन लोगों की सीरम आग हादसे में मौत की खबर परेशान करने वाली है। मेरी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के साथ हैं। मैं घायलों के जल्द ठीक होने कामना करता हूं।

परेशान करने वाली जानकारी मिली- अदार पूनावाला
सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा, हमें परेशान करने वाली जानकारी मिली है। आगे की जांच में पता चला है कि दुर्भाग्य से घटना में कुछ लोगों की जान गई है। हमें गहरा दुख हुआ है ऐर दिवंगत परिवार के सदस्यों के प्रति हमारी गहरी संवेदनाएं।

इससे पहले अदार पूनावाला ने कहा था, सभी की प्रार्थनाओं और चिंता के लिए धन्यवाद। अभी तक यह बात सबसे अच्छी है कि घटना में किसी की जान को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। बस कुछ फ्लोर ही बर्बाद हुए हैं। 


आग मंजरी स्थित सीरम इंस्टीट्यूट प्लांट के टर्मिनल 1 गेट पर 5वें और 6वें फ्लोर पर लगी।


प्रशासन के संपर्क में उद्धव ठाकरे
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पुणे नगर निगम कमिश्नर के लगातार संपर्क में हैं। वे घटना पर हर एक जानकारी ले रहे हैं। उन्होंने राज्य प्रशासन से सहयोग कर स्थिति से जल्द निपटने के आदेश दिए हैं। 
 

 

वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित
बताया जा रहा है कि जिस प्लांट में आग लगी है, वहां कोरोना वैक्सीन की करोड़ों डोज स्टोर हैं। हालांकि, आग प्लांट के जिस हिस्से में लगी, वह निर्माणाधीन है, ऐसे में कोरोना वैक्सीन और वैक्सीन यूनिट पूरी तरह से सुरक्षित है।
 

 

दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता है सीरम 
सीरम इंस्टीट्यूट दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है। इसी कंपनी ने बीसीजी का टीका भी बनाया है। सीरम की शुरुआत अदार पूनावाला के पिता साइरस पूनावाला ने की थी। आज सीरम कई देशों में विभिन्न दवाओं और उत्पादों का निर्यात करती है। कंपनी 140 से अधिक देशों में अपने उत्पादों का निर्यात करती है। 

सीरम इंस्टीट्यूट अभी तक अलग-अलग वैक्सीन के 1.5 अरब डोज बेच चुका है। एक आंकड़े के मुताबिक, दुनिया के 60% बच्चों को सीरम की एक वैक्सीन जरूर लगी है। सीरम पोलियो के साथ-साथ डिप्थीरिया, टिटनस, पर्ट्युसिस, एचआईवी, बीसीजी, आर-हैपेटाइटिस बी, खसरा, मम्प्स और रूबेला की वैक्सीन बना चुकी है।