Asianet News HindiAsianet News Hindi

आधे भारतीयों ने साल में एक बार जरूर दी रिश्वत, पर पिछली बार से कम हो गई हैं रिश्वतखोरी की घटनाएं

देश में पिछले वर्ष से रिश्वतखोरी की घटनाओं में 10 फीसदी की कमी आई है। सर्वे के अनुसार 51 प्रतिशत भारतीयों ने पिछले 12 महीनों में एक बार रिश्वत जरूर दी है।

Half the Indians have given bribe once a year, but the incidence of bribery has come down from last time
Author
New Delhi, First Published Nov 27, 2019, 8:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. एक सर्वे के अनुसार देश में पिछले वर्ष से रिश्वतखोरी की घटनाओं में 10 फीसदी की कमी आई है। दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, पश्चिम बंगाल, केरल, गोवा और ओडिशा में लोगों ने भ्रष्टाचार के कम मामले दर्ज कराये जबकि राजस्थान, बिहार, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, झारखंड और पंजाब में भ्रष्टाचार की घटनाएं अधिक थीं।

12 महिने में एक बार दी रिश्वत 

‘इंडिया करप्शन सर्वे 2019’ में 20 राज्यों के 248 जिलों में 1,90,000 लोगों से जवाब प्राप्त हुए। सर्वे के अनुसार 51 प्रतिशत भारतीयों ने पिछले 12 महीनों में एक बार रिश्वत जरूर दी है। यह सर्वे ‘ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल इंडिया’ (टीआईआई) ने किया है। यह एक गैर राजनीतिक, स्वतंत्र और गैर सरकारी भ्रष्टाचार रोधी संगठन है।

नगदी पहला साधन

संगठन द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि टीआईआई द्वारा जारी ‘करप्शन परसेप्शन इंडेक्स 2018’ भारत की रैंकिंग में पिछले साल की तुलना में तीन स्थानों का सुधार हुआ है और अब 180 देशों की सूची में भारत का स्थान 78 है। सर्वे के अनुसार रिश्वत देने के लिए नकदी अभी भी पहला साधन बना हुआ है।

16 प्रतिशत लोगों ने नहीं दी रिश्वत 

सर्वे के अनुसार 35 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्होंने अपने काम कराने के लिए पिछले 12 महीनों में रिश्वत दी है और 16 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे हमेशा बिना रिश्वत दिये ही अपना काम कराते है। इसके अनुसार 24 प्रतिशत लोगों ने स्वीकार किया कि उन्होंने पिछले 12 महीनों में कई बार रिश्वत दी है और 27 प्रतिशत ने एक या दो बार रिश्वत देने की बात स्वीकार की।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios