Asianet News HindiAsianet News Hindi

यहां कर्मचारियों में इतना खौफ, एक अधिकारी ने बोर्ड लगा दिया "मैं भ्रष्टाचारी नहीं हूं"

तेलंगाना में सरकारी विभागों में तैनात अधिकारी व कर्मचारी डरने लगे है। इसकी बानगी प्रदेश के करीमनगर में देखने को मिली है, जहां बिजली विभाग के एक अधिकारी ने अपने कार्यालय में 'मैं भ्रष्टाचारी नहीं हूं' का बोर्ड लगवा रखाा है।

Here the staff was so scared, an officer put the board "I am not corrupt"
Author
Karimnagar, First Published Nov 20, 2019, 11:33 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करीमनगर.  तेलंगाना में जब से एक महिला तहसीलदार को उसके कार्यालय में जिंदा जलाए जाने की सनसनीखेज घटना सामने आई है। उसके बाद से सरकारी विभागों में तैनात अधिकारी व कर्मचारी डरने लगे है। इसकी बानगी प्रदेश के करीमनगर में देखने को मिली है, जहां बिजली विभाग के एक अधिकारी ने अपने कार्यालय में 'मैं भ्रष्टाचारी नहीं हूं' का बोर्ड लगवा रखाा है। अपनी ईमानदारी की कसम खा रहे अधिकारी करीमनगर जिले में इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के एडिशनल डिविजनल इंजिनियर पोडेती अशोक हैं। अशोक ने अपने कार्यालय में बाकायदा बोर्ड लगवाया, जिसमें लिखा हुआ है कि 'मैं भ्रष्टाचारी नहीं हूं।' अशोक के अनुसार वह घूस और भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं, इसलिए ऐसा कदम उठाया है।

तहसीलदार को जलाया था जिंदा 

आपको बता दें कि इसी महीने 4 नवंबर को तेलंगाना के रंगारेड्डी में एक महिला तहसीलदार की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया था। राजस्व विभाग की एक महिला अधिकारी को उसके कार्यालय में एक व्यक्ति ने जिंदा जला दिया था। कथित तौर पर वह व्यक्ति अपने भूमि रिकॉर्ड में खामियों को दुरुस्त ना किए जाने को लेकर अधिकारी से नाराज था। तहसीलदार विजया रेड्डी अपने ऑफिस में थीं, उसी समय हमलावर पहुंचा और उसने उनके ऊपर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। आग में बुरी तरह से जलने के कारण महिला अधिकारी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। जिसके बाद से अधिकारियों में भय का महौल व्याप्त है। 

आरोपी ने भी तोड़ दिया दम 

तहसीलदार पर पेट्रेल छिड़कर आग लगाने का आरोपी सुरेश मुदिराजू इस बात से गुस्से में था कि अदालत के आदेश के बावजूद अधिकारी उसके भूमि दस्तावेज में त्रुटियों को दुरुस्त नहीं कर रहे थे। जिसके बाद उसने इस घटना को अंजाम दिया जिसमें वह भी बुरी तरह से झूलस गया। जिसके बाद उसने भी उपचार के बाद दम तोड़ दिया।  इस घटना से सरकारी अधिकारियों के बीच दहशत का माहौल पैदा हो गया। कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया और उन्होंने सुरक्षा की मांग की।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios