Asianet News Hindi

नौकरी दिलाने के नाम पर 8 महिलाओं को शेखों को बेचा, जानवरों जैसा किया जा रहा सलूक

 यहां महिला तस्करी का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां नौकरी के नाम पर 8 महिलाओं को यूएई के शेखों को बेच दिया गया। महिलाएं अभी UAE में ही हैं। इन्हें हैदराबाद के मिश्रीगंज के नामी एजेंट मोहम्मद शफी ने अरब के शेख परिवारों को बेचा। महिलाओं के परिजनों ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है। 

Hyderabad Woman Sold To UAE Families Over False Promise Of Job KPP
Author
Hyderabad, First Published Dec 12, 2020, 7:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हैदराबाद. यहां महिला तस्करी का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां नौकरी के नाम पर 8 महिलाओं को यूएई के शेखों को बेच दिया गया। महिलाएं अभी UAE में ही हैं। इन्हें हैदराबाद के मिश्रीगंज के नामी एजेंट मोहम्मद शफी ने अरब के शेख परिवारों को बेचा। महिलाओं के परिजनों ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है। 

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने शफी को गिरफ्तार कर लिया है। महिलाओं के नाम अमरीन बेगम, नाजिया बेगम, यासमीन बेगम, रहीमा बेगम, कनीज फातिमा, मेहरुन्निसा बेगम, आसमां बेगम और जरीना बेगम बताए जा रहे हैं। 

मॉल में नौकरी का किया गया वादा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिलाओं को पिछले सितंबर और अक्टूबर में UAE भेजा गया। शफी ने इन सभी महिलाओं को दुबई के शॉपिंग माल्स में नौकरी दिलाने का वादा किया था। इन्हें दुबई विजिट वीजा पर भेजा गया था। दुबई में महिलाओं को भर्ती एजेंसी के मालिक अल-सफीर को सौंपा गया।

30-30 हजार रु महीने सैलरी का था वादा
प्रकाश नगर की रहने वाली बदरुन्निसा बेगम ने बताया कि उसकी दो बेटियां नाजिया और यासमीन सितंबर में दुबई गई थीं। दोनों को दुबई रवाना होने से पहले 8-8 हजार रुपए मिले थे। उनसे वादा किया गया था खि उन्हें हर महीने 30-30 हजार रुपए तनख्वाह मिलेगी। लेकिन दुबई पहुंचने के बाद दोनों महिलाओं ने मां को फोन कर बताया कि उनके साथ ठगी हुई है। उन्हें नौकरी देने की बजाय अरब परिवारों में बेच दिया गया है। 

पत्नी को दोबारा लौटाने के लिए 1 लाख मांग रहा
हैदराबाद के वट्टेपल्ली के ऑटो ड्राइवर मोहम्मद मकबूल ने बताया,  40 दिन पहले रिश्तेदारों ने पत्नी को नौकरी के लिए UAE भेजा था। एजेंट ने बताया था कि उसकी पत्नी की नौकरी शुरू हो गई। लेकिन दुबई पहुंचने के बाद उसे 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन किया गया। बाद में उसे एक अरबी परिवार में काम के लिए भेज दिया। अब शफी उसकी पत्नी से मुलाकात कराने के लिए एक लाख रुपए की मांग कर रहा है। 

पेटभर नहीं मिल रहा खाना
मजलिस बचाओ तहरीक पार्टी के प्रवक्ता अमजदुल्ला खान खालिद ने महिलाओं के साथ हुए धोखे के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विदेश मंत्रालय को इस मामले में जानकारी दे दी गई है। अमजदुल्ला ने बताया, दुबई में महिलाओं को पेटभर खाना भी नहीं मिल रहा है। उन्हें रहने की सुविधा भी नहीं दी जा रही है। इसके अलावा महिलाओं से 15 घंटे काम और जानवरों जैसा सलूक किया जा रहा है। यहां महिलाओं का यौन शोषण भी किया जा रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios