Asianet News Hindi

Covid 19: सबसे तेज वैक्सीनेशन वाला देश बना भारत, 24 घंटे में 33 लाख से अधिक रिकार्ड डोज

देशवासियों को वैक्सीन उपलब्ध कराने व उसका डोज देने के मामले में भारत ने कई देशों को पीछे छोड़ दिया है। भारत में अबतक 8,70,77,474 वैक्सीन का डोज लगाया जा चुका है। इसमें 89,63,724 हेल्थ वर्कर्स को पहली डोज व 53,94,913 हेल्थ वर्कर्स को दूसरा डोज दिया जा चुका है। जबकि 97,36,629 फ्रंटलाइन वर्कर्स को फस्र्ट डोज व 4312826 फ्रंटलाइन वर्कर्स को दूसरा डोज दिया जा चुका है।

India becomes fastest Vaccinating Country with more than 33 lakh dose a day DHA
Author
New Delhi, First Published Apr 7, 2021, 4:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर में सबसे अधिक केस भारत में मिल रहे लेकिन जिस तरह देश में वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है वह दुनिया के किसी भी देश से बेहतर प्रबंधन का नतीजा है। एक दिन में 30 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन का डोज देकर भारत दुनिया में सबसे तेज वैक्सीनेशन करने वाला राष्ट्र बन गया है। 

कई देशों को पीछे छोड़ा भारत ने

देशवासियों को वैक्सीन उपलब्ध कराने व उसका डोज देने के मामले में भारत ने कई देशों को पीछे छोड़ दिया है। भारत में अबतक 8,70,77,474 वैक्सीन का डोज लगाया जा चुका है। इसमें 89,63,724 हेल्थ वर्कर्स को पहली डोज व 53,94,913 हेल्थ वर्कर्स को दूसरा डोज दिया जा चुका है। जबकि 97,36,629 फ्रंटलाइन वर्कर्स को फस्र्ट डोज व 4312826 फ्रंटलाइन वर्कर्स को दूसरा डोज दिया जा चुका है। 

साढ़े तीन करोड़ से अधिक बुजुर्गाें को भी लग चुका है टीका

वैक्सीनेशन अभियान के तहत 3,53,75,953 बुजुर्गाें जिनकी उम्र साठ साल से अधिक है, को टीके की पहली डोज लग चुकी है। जबकि 10,00,787 को दूसरा डोज दिया जा चुका है। इसी तरह 45 से 60 साल की उम्र वर्ग में 2,18,60,709 को पहला डोज तो 4,31,933 को दूसरा डोज दिया गया है। 

एक दिन में 33 लाख से अधिक लोगों के वैक्सीनेशन का रिकार्ड

वैक्सीनेशन अभियान के 81वें दिन छह अप्रैल को 33,37,601 वैक्सीन लगाया गया। यह संख्या एक दिन में वैक्सीन डोज दिए जाने का रिकार्ड है। 

24 घंटे में एक लाख से अधिक केस भी आए

कोरोना की दूसरी लहर काफी तेज है। पिछले 24 घंटों में कोरोना केस में रिकार्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई। एक दिन में 1,15,736 नए कोरोना पाॅजिटिव केस आए हैं। 
इनमें सबसे अधिक केस आठ राज्यों से आए हैं। सबसे अधिक केस महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, केरल में दर्ज किए गए। 
महाराष्ट्र में सबसे अधिक 55,469 नए केस मिले। जबकि छत्तीसगढ़ में 9921 नए केस आए हैं। कर्नाटक में एक दिन में 6150 केस दर्ज किए गए। 

84 प्रतिशत मौतें आठ राज्यों में, 11 राज्यों में एक भी नहीं

सरकारी डेटाबेस के अनुसार पूरे देश में हो रही मौतों का करीब 84 फीसदी मामले आठ राज्यों के ही हैं। महाराष्ट्र में कोरोना से होने वाली मौतें भी अधिक हैं जबकि पंजाब दूसरे नंबर पर है। महाराष्ट्र में तकरीबन 297 मौतें तो पंजाब में 61 मौतें रोज हो रहीं। पूरे देश में 630 मौत 24 घंटे में हुई हैं। 
उधर, देश के 11 राज्यों में एक भी मौत नहीं दर्ज किया गया है। ओडिशा, लद्दाख, दमन-दीव, दादरा-नागर हवेली, मेघालय, सिक्किम, मणिपुर, लक्ष्यद्वीप, मिजोरम, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और अरुणाचल प्रदेश में कोरोना से एक भी मौत नहीं है।  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios