नई दिल्ली. लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच तनाव कायम है। इस बीच रक्षा मंत्रालय ने एक बड़ी रक्षा खरीद को मंजूरी दी है। इस खरीद से भारतीय सेना को नए फाइटर जेट विमान और मिसाइल मिलेंगे। फाइटर जेट विमानों का सौदा रूस के साथ हुआ है। 

18 हजार 148 करोड़ रुपए का है बजट
इस सौदे के लिए कुल बजट 18 हजार 148 करोड़ रुपए का है। इसमें भारत अपने दोस्त रूस से सुखोई 30 और मिग 29 विमान खरीदेगा। आज ही रूसी राष्ट्रपति पुतिन और पीएम मोदी के बीच फोन पर बात हुई है। 

33 नए फाइटर जेट को मंजूरी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 33 नए फाइटर जेट खरीदने को मंजूरी दी गई है। इसमें 12 सुखोई 30 विमान और 21 मिग 29 भी शामिल हैं। इसके साथ ही पहले से मौजूद 59 मिग 29 को अपग्रेड भी करवाया। इस पूरे प्रोजेक्ट की कुल लागत 18,148 करोड़ रुपए है। 

248 एक्स्ट्रा एयर मिसाइल की खरीदी
रक्षा मंत्रालय ने 248 एक्स्ट्रा एयर मिसाइल की खरीदी की भी इजाजत दी। यह भारतीय एयर फोर्स और नेवी दोनों के काम आ सकेगी।

LAC पर चीन ने बढ़ाए सैनिकों की संख्या
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एलएसी पर चीन ने सैनिकों की संख्या को 6 गुना बढ़ा दी है। इतना ही नहीं, चीन ने जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलें, एंटी एयरक्राफ्ट गनों को भी तैनात किया है।