नई दिल्ली. कोरोना वायरस महासंकट के बीच रेलवे ने रेल सेवाओं को शुरू किया है, जिसमें अभी श्रमिक और 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें ही चलाई जा रही हैं। इस बीच भारतीय रेलवे ने 30 जून तक के सभी टिकटों को रद्द कर दिया है, साथ ही इन टिकटों का पैसा रिफंड कर दिया है। हालांकि, इसका श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों पर असर नहीं पड़ेगा और वो जारी रहेंगी। 

यात्रियों के घर का पता ले रही है IRCTC 

IRCTC ने 13 मई से ऑनलाइन टिकट बुक करने वाले सभी यात्रियों के घर का पता लेना शुरू कर दिया है। इससे हमें बाद में जरूरत पड़ने पर संपर्क करने में मदद मिलेगी।

12 मई से चल रही हैं स्पेशल ट्रेनें 

12 मई से भारतीय रेलवे पंद्रह स्पेशल ट्रेनें चला रही है, जो कि राजधानी दिल्ली से देश के अन्य पंद्रह शहरों को जोड़ेंगी। ये ट्रेनें जोड़ी के हिसाब से चलेगी, यानी दिल्ली से जाकर वापसी की व्यवस्था भी होगी। पिछले तीन दिनों में इन ट्रेनों में हजारों लोग सफर कर चुके हैं। 

रोजना चल रही हैं 100 ट्रेनें 

प्रवासी मजदूरों के लिए विशेष तौर पर श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं, जो कि रोजाना करीब सौ ट्रेनें चल रही हैं। इन ट्रेनों में अबतक पांच लाख से अधिक मजदूरों को वापस पहुंचाया जा चुका है और लगातार ये सर्विस जारी है।