Asianet News HindiAsianet News Hindi

15 अगस्त पर 'लाल किले' पर आने वाले VVIPs की सिक्योरिटी के लिए SPG कमांडो ने की मॉक ड्रिल, इस बार कुछ खास है

यह तस्वीर स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ(75th anniversary of Independence) के समारोह के लिए फुल ड्रेस रिहर्सल में एक VVIP को एस्कॉर्ट करने के लिए मॉक ड्रिल के दौरान एसपीजी कमांडो यूं नजर आए।

Input of terrorist attack on Independence Day, ban on kite flying in Red Fort area, mock drill of SPG commandos kpa
Author
New Delhi, First Published Aug 13, 2022, 10:58 AM IST

नई दिल्ली. यह तस्वीर स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ(75th anniversary of Independence) के समारोह के लिए फुल ड्रेस रिहर्सल में एक VVIP को एस्कॉर्ट करने के लिए मॉक ड्रिल के दौरान एसपीजी कमांडो यूं नजर आए। 15 अगस्त के मौके पर इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) को देश के प्रमुख स्थलों; खासकर नई दिल्ली-एनसीआर में आतंकी हमले का इनपुट मिला है। इसके मद्देनजर हर जगह कड़ी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हालांकि SPG हर साल यह मॉक ड्रिल करती है। पढ़िए क्या है इंतजाम...

लाल किला एरिया में कड़ी निगरानी
दिल्ली पुलिस ने 75वें स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले किसी भी खतरे का मुकाबला करने के लिए लाल किला क्षेत्र में छतों और अन्य संवेदनशील स्थानों पर पतंग पकड़ने वालों और पतंग उड़ाने वालों को तैनात किया है।दिल्ली पुलिस के अनुसार,पतंग, गुब्बारों, ड्रोन या किसी भी मानव या मानव रहित उड़ने वाली वस्तुओं को उस क्षेत्र तक पहुंचने से रोकने के लिए पर्याप्त उपाय किए गए हैं, जहां 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। पुलिस ने कहा कि पतंग पकड़ने वालों, पतंग उड़ाने वालों और खिड़की से नजर रखने वालों को 13 अगस्त से 15 अगस्त के बीच प्रतिबंधित क्षेत्र में उड़ने वाली किसी वस्तु के देखे जाने की सूचना संबंधित कर्मचारियों को देने को कहा गया है।

इस बीच, पतंगबाजी के लिए बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किए जाने वाले चीनी मांझा या कांच से लिपे धागे की बिक्री और खरीद पर 11 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) दीपेंद्र पाठक ने कहा कि दिल्ली में धारा 144 के प्रावधान पहले ही लागू कर दिए गए हैं। 13 अगस्त से 15 अगस्त तक लाल किले पर कार्यक्रम के समय तक जो कोई भी पतंग, गुब्बारे या चीनी लालटेन उड़ाता हुआ दिखाई देगा, तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। रणनीतिक स्थानों पर आवश्यक उपकरणों के साथ पतंग पकड़ने वालों को तैनात किया गया है, जो किसी भी तरह की पतंग, गुब्बारे और चीनी लालटेन को समारोह क्षेत्र तक पहुंचने से रोकेगा। किसी भी खतरे का मुकाबला करने के लिए लाल किले पर रडार तैनात किए जाएंगे।

पतंगबाजी से परहेज करने को कहा
दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि लाल किला क्षेत्र में पतंगबाजी प्रतियोगिताओं का आयोजन करने वाले कुशल पतंगबाजों की पहचान की गई है और उन्हें सुरक्षा पहलू को ध्यान में रखते हुए इस बार पतंग नहीं उड़ाने को कहा गया है। इस संबंध में उन्हें समझाने के लिए एसएचओ, एसीपी और डीसीपी स्तर पर पतंग उड़ाने वालों के साथ कई बैठकें की गईं। ये पतंगबाज शहर की पुलिस के साथ गश्त भी करेंगे और स्थानीय पुलिसकर्मियों को पतंगबाजी की ऐसी घटनाओं को रोकने में मदद करेंगे।

शाम को कराई जा सकती है पतंगबाजी
हालांकि पुलिस ने कहा कि पतंगबाजी की प्रतियोगिताएं 15 अगस्त की शाम को आयोजित की जा सकती हैं। विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) दीपेंद्र पाठक ने कहा-"हमने पतंग, गुब्बारे और चीनी लालटेन की बिक्री और खरीद में शामिल दुकानदारों के साथ बैठकें भी कीं। उन्हें सभी खरीदारों को 13 अगस्त से 15 अगस्त को लाल किला कार्यक्रम के समापन तक पतंगबाजी से परहेज करने के लिए प्रेरित किया गया। पतंग और गुब्बारे बेचने वाली दुकानों के बाहर भी तख्तियां चस्पा की गई हैं।' उन्होंने कहा, "13 अगस्त से 15 अगस्त तक स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम के दौरान आम जनता को किसी भी तरह के चीनी मांझा का उपयोग नहीं करने और पतंगबाजी से बचने के लिए प्रेरित करते हुए धार्मिक स्थलों से भी घोषणाएं की जा रही हैं।"

यह भी पढ़ें
देश के खिलाफ साजिश रच रहा था सहारनपुर का नदीम, खुफिया विभाग की बड़ी नाकामी आई सामने
India@75: भारत के वो 10 हथियार जिनसे हर वक्त खौफ में रहते हैं दुश्मन, जानें क्या है खासियत

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios