Asianet News HindiAsianet News Hindi

विदेश यात्रा का बना लें प्लान, दिसंबर के आखिर तक समान्य हो जाएंगी इंटरनेशनल फ्लाइट्स

मार्च 2020 से बंद अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवाएं (Internation Flights) दिसंबर के अंत तक शुरू हो सकती हैं। मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन (Ministry Of civil Aviation) सचिव राजीव बंसल ने बुधवार को ये बात कही।

Internation Flights Ministry of Civil Aviation Rajiv Bansal Big announcement
Author
New Delhi, First Published Nov 24, 2021, 8:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। मार्च 2020 से बंद इंटरनेशनल फ्लाइट्स (International Flights) इस साल दिसंबर (December 2021) तक सामान्य हो सकती हैं। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव (Ministry of Civil Aviation) राजीव बंसल ने बुधवार को कही। उन्होंने कहा कि कोविड-19 (Covid 19) महामारी के कारण पिछले साल मार्च में भारत में आने और यहां से विदेश जाने वाली अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ान सेवाएं निलंबित कर दी गई थीं। यह निलंबन 30 नवंबर तक बढ़ा दिया गया है। 
बंसल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के बहुत जल्द यानी इस साल के अंत तक सामान्य होने की उम्मीद है। अभी भारत 25 से अधिक देशों के साथ ‘एयर बबल' समझौते के तहत इंटरनेशनल फ्लाइट्स चला रहा है। लेकिन यह दो देशों के बीच फ्लाइट्स शुरू करने की एक अस्थायी व्यवस्था है। इसके तहत दोनों देशों की एयरलाइंस कुछ शर्तों के साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित कर सकती हैं। 

सिंधिया ने भी कहा था- सामान्य करना चाहते हैं हवाई सेवाएं 
पिछले हफ्ते नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने कहा था कि सरकार अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं को बहाल करने की प्रक्रिया का आकलन कर रही है। उन्होंने कहा था कि सरकार दुनिया के कुछ हिस्सों में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए सेवाएं सामान्य करना चाहती है। हम दुनिया में नागर विमानन क्षेत्र का अपना मुकाम फिर हासिल करने और भारत में हब बनाने का प्रयास कर रहे हैं। आप भरोसा रखें, मैं आपके साथ हूं। 

2025 तक देश में होंगे 220 हवाई अड्डे 
देश में अभी 136 हवाई अड्डे हैं। इन्हें 2025 तक 220 करना है। यह बात नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को कही। उन्होंने कहा कि विमानन क्षेत्र (Aviation Sector) को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए तेजी से काम कर रही है। डोमेस्टिक और इंटरनेशनल रूटों पर कनेक्टिविटी में सुधार किया जा रहा है। सिंधिया ने कहा- 70 साल में 74 हवाईअड्डे बने थे। हमने पिछले 7 साल में 62 और हवाईअड्डे बनाए हैं। अब हमारे पास 136 हवाईअड्डे हैं। हमारा लक्ष्य 2025 तक कुल 220 हवाईअड्डों तक पहुंचने का है और इसमें हेलीपोर्ट और वाटर पोर्ट भी शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें
UP News: स्वच्छ अमृत महोत्सव-2021 में यूपी के इन शहरों ने बढ़ाया प्रदेश का मान, राष्ट्रपति ने किया सम्मानित
Asianet news Impact : केरल में 13 महीने बाद असली माता-पिता को मिला गोद दिया गया बच्चा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios