Asianet News HindiAsianet News Hindi

मोदी से मिलीं ममता, कहा- BSF का अधिकार क्षेत्र 15 से बढ़ाकर 50 किमी करना राज्य को मंजूर नहीं

2024 के आम चुनावों की (Election 2024 ) तैयारी में  पश्चिम बंगाल (West bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banarjee) ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm  Modi) से उनके आवास पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दे उठाए।

Mamta banrjee Meeting with modi Bsf West bengal Update
Author
New Delhi, First Published Nov 24, 2021, 6:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल (West bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Cm Mamta banarjee) बुधवार को दिल्ली (Delhi) में थीं। शाम पांच बजे उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Modi) से उनके निवास पर मुलाकात की। करीब 30 मिनट चली मुलाकात में ममता ने प्राकृतिक आपदाओं पर मुआवजे और सीमा सुरक्षा बल (BSF)के अधिकार बढ़ने और प्रदेश में दखल के मुद्दे पर भी बात की। पीएमओ (PMO) ने मोदी से ममता की मुलाकात का फोटो ट्वीट किया है।

ममता सोमवार से दिल्ली में हैं। प्राकृतिक आपदा के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि बंगाल को उन्‍हें अब तक 96,605 करोड़ रुपए नहीं मिले हैं, जोकि केंद्र सरकार से प्राकृतिक आपदा के मुआवजे के तौर पर मिलने थे। मोदी से मुलाकात के दौरान ममता ने त्रिपुरा हिंसा का मुद्दा उठाया और अपनी कार्यकर्ता शायनी घोष को निशाना बनाने की शिकायत की। ममता ने पत्रकारों से कहा कि सीमा सुरक्षा बल (BSF) के क्षेत्रीय अधिकार क्षेत्र को 15 Km से बढ़ाकर 50 Km करने का आदेश राज्य सरकार को स्वीकार नहीं है। उन्होंने कहा कि बीएसएफ को भाजपा के हाथ में नहीं आने देंगे। ममता ने इससे पहले भाजपा (BJP) के राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी से भी मुलाकात की। स्वामी का राज्यसभा का कार्यकाल 2022 में समाप्त हो रहा है। स्वामी ने तब सरकार पर सवाल उठाए थे जब ममता बनर्जी को गृह मंत्रालय ने रोम में एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने के जाने की अनुमति नहीं दी थी। 

2024 की तैयारी में जुटीं ममता
ममता 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई हैं। पश्चिम बंगाल चुनाव में खेला होबे का नारा देने वाली ममता का लक्ष्य दिल्ली है। उन्होंने इसके लिए देशभर में नेताओं से मुलाकातें शुरू कर दी हैं। दिल्ली में दो दिनों में उन्होंने कई नेताओं से मुलाकात की। 

कीर्ति आजाद समेत कई नेताओं ने TMC का दामन थामा
ममता ने दिल्ली आकर कई बड़े नेताओं को पार्टी में शामिल कराया है। सबसे पहले JDU सांसद रह चुके पवन वर्मा ने पार्टी की सदस्यता ली। इसके बाद कांग्रेस नेता और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद पत्नी पूनम आजाद के साथ ममता के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी के घर पहुंचे। यहां पहले से मौजूद ममता बनर्जी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। इसके चंद घंटे बाद ही हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद रह चुके अशोक तंवर भी ममता से मिले और TMC में शामिल हो गए।

यह भी पढ़ें
Delhi : राजधानी की एयर क्वालिटी दिवाली के पहले जैसी, 29 नवंबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज और सरकारी दफ्तर
स्मृति पर अल्का लांबा का तंज : 8 साल में अपने कामों से पहचान नहीं बना पाईं ई-रानी जी, जो थी वो भी गंवा दी

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios