Asianet News HindiAsianet News Hindi

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता: 48 घंटों में तीन आतंकवादियों को मार गिराया, एक जवान समेत 3 घायल

वेस बटपोरा क्षेत्र में सुरक्षा बलों को दो आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। आतंकियों की ओर से शुरू हुई फायरिंग के जवाब में सुरक्षा बलों ने भी कार्रवाई शुरू कर दी। इनपुट के आधार पर की गई कांबिंग में एक आतंकवादी भागने में सफल रहा। 

Jammu Kashmir Terrorist encounter, Jaish e Mohammad terrorist shot dead in Kulgam district, DVG
Author
First Published Sep 27, 2022, 12:46 AM IST

Encounter in Jammu-Kashmir: जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। सोमवार को जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया। इस एनकाउंटर में एक सेना के जवान समेत तीन अन्य लोग भी घायल हो गए। घायलों में दो कश्मीर के रहने वाले सामान्य नागरिक हैं। मारे गए आतंकी पहचान जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी के रूप में हुई है। सुरक्षा बलों ने रविवार को भी कुपवाड़ा सेक्टर में दो आतंकवादियों को मार गिराया था। इनके पास से काफी अत्याधुनिक हथियार बरामद हुए थे।

वेस बटपोरा में हुआ मुठभेड़

कश्मीर के कुलगाम जिले में हुआ एनकाउंटर वेस बटपोरा इलाका के पास हुआ। आतंकियों के बारे में इनपुट मिलने पर सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान शुरू किया तो एनकाउंटर शुरू हो गया। आतंकियों की ओर से शुरू हुई फायरिंग के जवाब में सुरक्षा बलों ने भी कार्रवाई शुरू कर दी। एनकाउंटर में सिक्योरिटी फोर्सेस ने एक आतंकवादी को मार गिराया। आतंकवादी की पहचान जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी के रूप में हुई। आतंकियों की गोली से एक जवान और दो नागरिक भी घायल हो गए। इनका इलाज सेना के अस्पताल में कराया जा रहा है। दरअसल, वेस बटपोरा क्षेत्र में सुरक्षा बलों को दो आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी लेकिन इनपुट के आधार पर की गई कांबिंग में एक आतंकवादी भागने में सफल रहा।

एक दिन पहले भी मारे गए थे दो आतंकवादी

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा क्षेत्र में भी सुरक्षा बलों ने रविवार को दो आतंकवादियों को मार गिराया था। सुरक्षा बलों को कुपवाड़ा के माछिल इलाके में आतंकवादियों के होने की सूचना मिली थी। कांबिंग के दौरान आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। कई घंटे तक हुई इस गोलीबारी में सुरक्षा बलों ने दो आतंकवादियों को मार गिराया था। सुरक्षा बलों को आतंकवादियों के पास से दो एके-47, दो पिस्टल और चार हैंड ग्रेनेड बरामद किए। 

यह भी पढ़ें:

जेपी नड्डा लोकसभा चुनाव 2024 तक बने रह सकते हैं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, शाह की तरह बढ़ेगा कार्यकाल

असम: 12 साल में उग्रवादियों से भर गए राज्य के जेल, 5202 उग्रवादी गिरफ्तार किए गए, महज 1 का दोष हो सका साबित

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios