Asianet News HindiAsianet News Hindi

जावडेकर ने कोरोना वायरस को लेकर की बैठक, कहा- लोग डरे नहीं, सावधान रहें

जावड़ेकर ने कहा कि चूंकि वह पुणे से हैं, उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक की और सड़कों पर यातायात कम करने, यह सुनिश्चित करने के लिए लोग अपने घरों से काम करें तथा संक्रमण फैलने से रोकने के लिए एक जन आंदोलन की दिशा में काम करने के लिए उनकी प्रशंसा की।

Javadekar holds meeting regarding corona virus, said- people should not be scared, be careful kpm
Author
Pune, First Published Mar 21, 2020, 6:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने पुणे शहर में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा उठाये गए कदमों की शनिवार को समीक्षा की।

जावडेकर की अपील- लोग घर से ही करें काम

जावडेकर पुणे के रहने वाले हैं। उन्होंने संभागीय आयुक्त दीपक म्हेस्कर, जिला कलेक्टर नवल किशोर राम और अन्य अधिकारियों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा, ‘‘पूरी दुनिया कोरोनो वायरस के खतरे से लड़ रही है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हम भी पूरी जागरूकता के साथ इसमें शामिल हैं। प्रधानमंत्री उठाये गये कदमों की समीक्षा कर रहे हैं और सभी मुख्यमंत्री भी कदमों की समीक्षा कर रहे हैं।’’

जावड़ेकर ने कहा कि चूंकि वह पुणे से हैं, उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक की और सड़कों पर यातायात कम करने, यह सुनिश्चित करने के लिए लोग अपने घरों से काम करें तथा संक्रमण फैलने से रोकने के लिए एक जन आंदोलन की दिशा में काम करने के लिए उनकी प्रशंसा की।

कोरोना से डरने की कोई जरूरत नहीं है, लेकिन सावधान रहना होगा

उन्होंने हाथ धोने, सामाजिक मेलजोल से दूर रहने और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर नहीं जाने जैसे उपायों को सूचीबद्ध करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के लक्षणों से पीड़ित लोगों के इलाज के लिए शहर में पर्याप्त संख्या में बेड हैं। उन्होंने कहा कि कारों में पुणे आने वाले लोगों की जाँच की जा रही है और उन्हें जानकारी मुहैया करायी जा रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अधिकारियों से बात की और उनसे केंद्र से उनकी अपेक्षाओं के बारे में पूछा। मैं उनकी मांगों को स्वास्थ्य, रेलवे, आदि जैसे मंत्रालयों के समक्ष रखूंगा और इसको लेकर उनके साथ सम्पर्क में रहूंगा। हम यह सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रहे हैं कि तीन लाख परिवारों को तीन महीने का अग्रिम राशन मिले।’’

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios