Asianet News HindiAsianet News Hindi

कमलेश तिवारी : सीने, जबड़े, पीठ पर 13 बार चाकू मारा, पोस्टमार्टम में सिर के पिछले हिस्से में फंसी मिली गोली

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के आरोप में तीन आरोपी पकड़े गए हैं, जिन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। गुजरात एटीएस के मुताबिक तीनों आरोपियों मोहसिन, फैजान और राशिद ने हत्या की बात कबूल कर ली है।  

Kamlesh Tiwari Hindu Samaj Party leader murder revealed in post mortem report Lucknow Uttar Pradesh
Author
Lucknow, First Published Oct 19, 2019, 3:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. यहां हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के आरोप में तीन आरोपी पकड़े गए हैं, जिन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। गुजरात एटीएस के मुताबिक तीनों आरोपियों मोहसिन, फैजान और राशिद ने हत्या की बात कबूल कर ली है। वहीं कमलेश तिवारी के परिजनों और प्रशासन के बीच बातचीत हुई है, जिसमें सीएम से भेंट और उचित मुआवजा की बात कही गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लखनऊ में कमलेश तिवारी के परिजनों को घर मिलेगा। 

सिर के पीछे फंसी थी 32 बोर की गोली
कमलेश तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ कि कमलेश तिवारी की बेरहमी से हत्या की गई। उनके सीने, जबड़े और पीठ पर चाकुओं से वार के बाद गला रेता गया। चेहरे पर एक गोली भी मारी गई। सिर के पिछले हिस्से में 32 बोर की गोली फंसी मिली।

बेटे ने कहा- सरकार पर भरोसा नहीं
कमलेश तिवारी के बेटे सत्यम ने कहा कि हमे सरकार पर भरोसा नहीं है। इसलिए एनआईए जांच की जानी चाहिए। हमें नहीं पता कि जो पकड़े गए हैं उन्होंने ही हत्या की है। अगर वही लोग हैं तो सीसीटीवी फुटेज से चेहरा मिलाया जाए।

हत्यारे के दुबई कनेक्शन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हत्या का आरोपी राशिद दुबई में भी रहा है। यूपी डीजीपी के मुताबिक कमलेश के 2015 के भड़काऊ भाषण के बाद हत्या की साजिश हो रही थी। इसमें किसी आतंकी संगठन से जुड़ा मामला सामने नही आया है। डीजीपी ने कहा कि इस ऑपरेशन में गुजरात एटीएस का सहयोग रहा है। राशिद पठान जो टेलर है उसी ने हत्या की साजिश रची। इस केस में अनवारुल हक मुफ्ती, लाइक काजमि को हिरासत में लिया है। इन दोनों का नाम एफआईआर में है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios