Asianet News HindiAsianet News Hindi

18 जुलाई 2019: पढ़ें दिनभर का कर'नाटक'

कर्नाटक में विश्वास मत प्रस्ताव को लेकर बहस के बाद स्पीकर ने सदन की कार्रवाई को शाम 6:30 शुक्रवार के लिए स्थगित कर दी। जिसके बाद नाराज बीजेपी विधायकों ने विधानसभा में रात भर धरना देने की बात कही है। इससे पहले बीजेपी ने आरोप लगाया था कि, सत्तापक्ष लंबे लंबे भाषण दे रहे हैं, जिससे वक्त बीत रहा है। उन्होंने स्पीकर रमेश कुमार पर विश्वास मत टालने की आरोप लगाया। आईए हम आपको बताते हैं, सुबह से लेकर शाम तक कर्नाटक की विधानसभा में क्या हुआ....

karnataka assembly flour test day with key points
Author
Karnataka, First Published Jul 18, 2019, 8:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


बेंगलोर. कर्नाटक में विश्वास मत प्रस्ताव को लेकर बहस के बाद स्पीकर ने सदन की कार्रवाई को शाम 6:30 शुक्रवार के लिए स्थगित कर दी। जिसके बाद नाराज बीजेपी विधायकों ने विधानसभा में रात भर धरना देने की बात कही है। इससे पहले बीजेपी ने आरोप लगाया था कि, सत्तापक्ष लंबे लंबे भाषण दे रहे हैं, जिससे वक्त बीत रहा है। उन्होंने स्पीकर रमेश कुमार पर विश्वास मत टालने की आरोप लगाया। आइए हम आपको बताते हैं, आज दिनभर कर्नाटक की विधानसभा में क्या हुआ....

कर्नाटक विधानसभा का कार्रवाई शुरू होने से पहले बीजेपी विधायक दो बसों में विधानसभा पहुंचे। कांग्रेस की तरफ से भी लोग पहुंचे। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सिद्धारमैया विधानसभा पहुंचे। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा विधानसभा आए। फ्लोर टेस्ट से पहले बीएसपी के विधाक महेश नहीं पहुंचें।  बागी विधायक रामलिंगा रेड्डी ने इस्तीफा लेने की बात कही और सरकार के पक्ष वोट डालने को लेकर आश्वस्त किया। 

विधानसभा में फ्लोर टेस्ट पर बहस शुरू हुई। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने अपनी बात रखी।  सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा - ''आज सिर्फ मेरी सरकार पर ही संकट नहीं है, बल्कि स्पीकर पर भी जबरन दबाव बनाया जा रहा। मैंने अपने कार्यकाल में जनता के लिए काम किया। विपक्ष को सरकार गिराने की काफी जल्दी है, BJP इतनी जल्दबाजी क्यों है।''

शिवकुमार और बीजेपी विधायक में जमकर बहस हुई। 19 विधायक विधानसभा में नहीं पहुंचे। कर्नाटक विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार ने कहा- सुप्रीम कोर्ट सर्वोपरि , आपके द्वारा जारी व्हिप लागू रहेगा।येदियुरप्पा के भाषण के दौरान कांग्रेस विधायकों ने हंगामा किया।  कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने 'येदियुरप्पा पर देश को देश को गुमराह करने का आरोप लगाया। जिसके बाद 3 बजे सदन को स्पीकर ने स्थगित कर दिया।''  कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए जेडीएस नेता एचडी रेवन्ना नंगे पैर सदन पहुंचे।'' कार्यवाही एक बार फिर शुरू हुई। सदन में कांग्रेस के दिनेश गुंडू राव ने बीजेपी पर आरोप लगाया। 


स्पीकर रमेश कुमार ने कहा ने श्रीमंत पाटिल की तरफ से जो चिट्ठी भेजी उसके बारे में बताया, जिसमें उन्होंने कहा, चिट्ठी में न तारीख लिखी है, न कोई लेटरहेड। अब सदन किस कागज पर यकीन करे। कार्यवाही को पुन: 4.30 बजे तक स्थगित कर दिया। 

जिसके बाद बीजेपी  नेता राज्यपाल से मिले और उन्हें ज्ञापन सौंपा। स्पीकर से मिलने राज्यपाल का विशेष अधिकारी पहुंचा।  स्पीकर रमेश कुमार ने राज्यपाल के मैसेज विधानसभा में पढ़कर सुनाया। स्पीकर ने बताया राज्यपाल ने विश्वास मत की वोटिंग पर विचार करने की इच्छा जताई, न कि निर्देश दिए हैं। इसके बाद विधानसभा की कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित कर दी। कांग्रेस और जेडीएस ने श्रीमंत पाटिल की फोटो विधानसभा में लहराई। कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर रमेश कुमार और अटॉर्नी जनरल मिले। उसके बाद अंत में  कार्यवाही शुक्रवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।   येदियुरप्पा ने  विरोध करते हुए कहा रात भर सदन में धरना देने की बात कही। 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios