Asianet News HindiAsianet News Hindi

कर्नाटक: दलित युवक का जबरन धर्म परिवर्तन, खतना कर कहा अब खाना होगा बीफ, मना किया तो हुआ यह हाल

कर्नाटक से एक दलित युवक का जबरन धर्म परिवर्तन कराने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने युवक का खतना करा दिया। इसके बाद उसपर बीफ खाने के लिए दबाव डाला। मना करने पर आरोपी युवक को धमकी देने लगे।
 

Karnataka Dalit man allegedly forcibly converted circumcised made to eat beef vva
Author
First Published Sep 26, 2022, 3:16 PM IST

मांड्या (कर्नाटक)। कर्नाटक (Karnataka) से जबरन धर्म परिवर्तन कराने का एक मामला सामने आया है। 26 साल के दलित युवक श्रीधर गंगाधर ने आरोप लगाया है कि कुछ लोगों ने जबरदस्ती उसका धर्म परिवर्तन कराया। इसके बाद उसका खतना कर दिया गया और उसे बीफ खाने के लिए मजबूर किया गया। मना करने पर वे धमकी देने लगे। 

टाइम्स नाऊ की खबर के अनुसार श्रीधर गंगाधर मांड्या जिला का रहने वाला है। उसने हुबली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। श्रीधर ने अपनी शिकायत में कहा है कि कुछ लोग उसे पकड़कर कब्रिस्तान ले गए थे। यहां उसका जबरन धर्म परिवर्तन और खतना किया गया। इसके बाद उसे धार्मिक स्थल पर ले जाया गया और जबरन बीफ खाने के लिए कहा गया। आरोपी ने बंदूक पकड़े उसकी तस्वीरें ली और धमकी दी कि अगर वह पुलिस के पास गया तो फोटो वायरल कर देगा।

बीफ खाने से मना किया तो देने लगे धमकी
गंगाधर ने मामले में मुख्य आरोपी के रूप में अत्तावर रहमान का नाम लिया है। गंगाधर के अनुसार वह रहमान के पास गया था। रहमान ने उसकी समस्याओं का हल करने का वादा किया और उसे कुछ लोगों से मिलवाया। फिर वह उसे हाफिज नाम के एक डॉक्टर के पास ले गया। उसने गंगाधर को इस्लाम का पालन करने का लालच दिया। इसके बाद गंगाधर को इलियास नगर में नदीम और नायाज पाशा के पास ले जाया गया। वे लोग उसे खतना के लिए ले गए। अगले दिन उन्होंने गंगाधर को बीफ खाने के लिए कहा, लेकिन गंगाधर ने ऐसा करने से मना कर दिया। इसके बाद वे गंगाधर को धमकी देने लगे। 

यह भी पढ़ें- अर्पिता को मां बनाने के लिए गोवा और थाईलैंड ले गया था पार्थ चटर्जी, दोनों ने वहां खरीदा था बंगला

गंगाधर ने अपनी शिकायत में कहा है कि बीफ खाने से इनकार करने पर आरोपी उसे धमकी देने लगे। आरोपी ने उसे रिवॉल्वर पकड़ा दी और फोटो ले ली। आरोपियों ने कहा कि अगर हमारी बात नहीं मानोगे तो फोटो सोशल मीडिया पर डाल देंगे। आरोपियों ने गंगाधर को तिरुपति जाने और कुरान पढ़ने के लिए कहा। आरोपियों ने कहा कि अब वह किसी अन्य भगवान की पूजा नहीं कर सकता और केवल कुरान का पालन कर सकता है।

यह भी पढ़ें- शिलॉन्ग में बोले संघ प्रमुख मोहन भागवत हम सब हिंदू, भारत के विकास को लेकर कही यह बात
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios