Asianet News HindiAsianet News Hindi

KBC13: अयांश मदान के इलाज के लिए हॉट सीट पर बैठीं दीपिका-फराह, अमिताभ बोले- 'मैं करूंगा मदद, लोग भी आएं आगे'

कौन बनेगा करोड़पति के सेट पर हरियाणा के 17 महीने के बच्चे अयांश मदान की दर्दनाक कहानी सुनकर बिग-बी भावुक हो गए। बच्चे के इलाज में मदद करने के उद्देश्य से शुक्रवार रात KBC के सेट पर फराह खान और एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण हॉट सीट पर बैंठी।

KBC 13, Amitabh Bachchan to help Ayansh Madan, Big B appeal people to come forward and contribute for cause
Author
Haryana, First Published Sep 12, 2021, 9:04 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कौन बनेगा करोड़पति में अक्सर कंटेस्टेंट जब अपनी दर्दभरी कहानी सुनाते हैं तो अमिताभ बच्चन इमोशनल हो जाते हैं। सेट पर हरियाणा के 17 महीने के बच्चे अयांश मदान की दर्दनाक कहानी सुनकर बिग-बी भावुक हो गए। मासूम खतरानाक बीमारी के चलते जिंदगी की जंग लड़ रहा है। बच्चे के इलाज में करोड़ों रु. का खर्च आएगा, इसलिए माता-पिता लोगों से मदद मांग रहे हैं। बच्चे के इलाज में मदद करने के उद्देश्य से शुक्रवार रात KBC के सेट पर फराह खान और एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण हॉट सीट पर बैंठी। यह इसलिए ताकि सवालों के जवाब से जो भी पैसा मिले उसे मासूम के इलाज में लगाया जा सके। आइए जानते हैं मासूम को एक नई जिंदगी देने के लिए अमिताभ, दीपिका और फराह ने क्या-क्या किया...

KBC के सेट पर जिसकी मदद के लिए फराह-दीपिका पहुंची थी, उस मासूम का नाम अयांश मदान है। वो महज 17 माह का है। इसकी एक प्यारी सी मुस्कान का हर कोई दीवाना है। लेकिन अब मासूम को 'स्पाइनल मस्कुलर एट्रॉफी' (Spinal Muscular Atrophy) जैसी गंभीर दुर्लभ बीमारी ने जकड़ रखा है। इसका इलाज 16 करोड़ रुपए के इंजेक्शन की एक डोज से होता है।

केबीसी में अयांश मदान (Ayansh Madan) की मां बेटे की कहानी और इस बीमारी के बारे में बताती हैं। इसे सुनकर अमिताभ बच्चन भावुक हो जाते हैं। नम आंखों से अमिताभ ने फराह खान और दीपिका से कहा- मैं व्यक्तिगत तौर पर इस कार्य में सहयोग करना चाहता हूं। मैं आपको राशि बाद में बताऊंगा। उन्होंने लोगों से हाथ जोड़कर अपील करते हुए कहा-वह आगे आएं और सहायता करें। अगर देश के एक करोड़ लोग 10-10 रुपए की मदद करेंगे तो 10 करोड़ की राशि जुट जाएगी। इस तरह से मासूम एक बार फिर से हंस सकेगा।

अयांश की मां वंदना ने बताया- जब बेटा 6 महीने का था, तब उसके हाथ-पैर सही से काम नहीं कर पा रहे थे। डॉक्टर्स ने बताया- अयांश को स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी (Spinal Muscular Atrophy) की बीमारी है। इलाज में करोड़ों रुपए का खर्च आएगा। 16 करोड़ रुपए के इंजेक्शन की एक डोज से इस बीमारी को ठीक किया जा सकता है। लेकिन इसमें कंडीशन यह है कि इजेक्शन 2 साल के अंदर लगना चाहिए।

अयांश के पिता प्रवीण मदान और मां वदंना मूलरूप से हरियाण के गुरुग्राम के रहने वाले हैं। एक मीडिया चैनल को अपना दर्द बयां करते हुए इन्होंने कहा- हमारी शादी के 12 साल बाद अयांश का जन्म हुआ। यह हमारी जिंदगी का सबसे बड़ा दिन था। अयांश 6 महीने का था, तब मुझे लगा वो अन्य बच्चों की तरह स्वस्थ नहीं है। मेरी चिंता तब बढ़ने लगी जब मैंने देखा कि वह सोते समय रेंगने या मुड़ने में सक्षम नहीं है। वह अपने खिलौनों पकड़ नहीं पाता था।

अयांश मदान के इलाज के लिए बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद और पहलावान गीता फोगाट भी आगे आए हैं। उन्होंने भी लोगों से अपील की है कि वो मासूम को नया जीवन देने में मदद करें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios