Asianet News HindiAsianet News Hindi

तबाही की बारिश: केरल में 21 मौत, दर्जनों लापता, पीएम मोदी ने कहा- सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं

मौसम कार्यालय ने केरल तट से दूर दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। बारिश और भूस्खलन को देखते हुए भगवान अयप्पा के भक्तों को अगले दो दिनों तक सबरीमाला मंदिर जान से बचने के लिए कहा गया है। 

Kerala Heavy rain killed minimum 5 people, rescue operations continue, High alert by IMD
Author
New Delhi, First Published Oct 17, 2021, 8:37 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इडुक्की/कोट्टायम। केरल (Kerala)में भारी बारिश (heavy rain) की वजह से अभी तक कम से कम  21 लोगों के जान जाने की सूचना है जबकि कई दर्जन लापता है। भारी बारिश की वजह से राज्य के इडुक्की और कोट्टायम जिलों में भूस्खलन से यह हादसा हुआ है। रेस्क्यू टीम लोगों को बचाने में लगी हुई है। इंडियन नेवी के एयरक्राफ्ट्स राहत कार्य में जुटे हैं। बारिश और भूस्खलन को देखते हुए भगवान अयप्पा के भक्तों को अगले दो दिनों तक सबरीमाला मंदिर (Sabarimala Temple) जान से बचने के लिए कहा गया है। हालांकि, केरल के कई हिस्सों में शुक्रवार से ही बारिश थमने का नाम नहीं ले रही। कई जिलों में मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।

 

 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा: "केरल के मुख्यमंत्री से केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के मद्देनजर स्थिति पर चर्चा की। घायलों और प्रभावितों की सहायता के लिए ज़मीनी स्तर पर काम किया जा रहा है। मैं सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं।"

 

राज्य सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने बताया कि केरल में भारी बारिश के कारण मरने वालों की संख्या 21 हो गई है। इसमें कोट्टायम में मौतों की संख्या 13 और इडुक्की में 8 है। 

 

गृहमंत्री शाह बोले: हम स्थितियों का कर रहे आंकलन, लगातार हो रही मॉनिटरिंग

केरल में बारिश की तबाही पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया कि हम भारी बारिश और बाढ़ के मद्देनजर केरल के कुछ हिस्सों में स्थिति की लगातार निगरानी कर रहे हैं। केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए हर संभव मदद करेगी। बचाव कार्यों में मदद के लिए एनडीआरएफ की टीमें पहले ही भेजी जा चुकी हैं। सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहे हैं।

 

भारतीय नौसेना पहुंचा रही पीने का पानी, रिलीफ काम जोरों पर

भारतीय नौ सेना भी केरल में बारिश की तबाही से लोगों को बचाने में जुटी हुई है। नौ सेना के एयरक्राफ्ट लगातर राहत कार्य में जुटे हुए हैं। 

 

 

लगातार बढ़ रहा जलस्तर

कोट्टायम में 12 लोगों के लापता होने की खबर है। कोट्टायम में खराब मौसम की वजह से रक्षा कर्मियों द्वारा बचाव अभियान में देरी हो रही है। जिले में भारी बारिश के कारण बांधों के जलग्रहण क्षेत्रों में जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। जलाशय में जलस्तर बढ़ने के कारण मनियार बांध के शटर खोल दिए गए हैं। 

राज्य सरकार के अनुरोध पर सेना, नौसेना और वायु सेना ने रेस्क्यू में राज्य प्रशासन का मदद का निर्णय लिया है। एनडीआरएफ ने 11 टीमों को तैनात करने का फैसला किया है।

मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट 

मौसम कार्यालय ने केरल तट से दूर दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। बारिश और भूस्खलन को देखते हुए भगवान अयप्पा के भक्तों को अगले दो दिनों तक सबरीमाला मंदिर जान से बचने के लिए कहा गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम और कोझीकोड के ग्यारह जिलों में भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

सीएम विजयन ने बचाव कार्यों में तेजी लाने का दिया आदेश

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बचाव प्रयासों को तेज करने के लिए एक हाईलेवल मीटिंग की है। विजयन ने कहा कि कोट्टायम सहित राज्य में भारी बारिश के कारण बाढ़ वाले क्षेत्रों में फंसे लोगों को निकालने के लिए हर संभव साधन का इस्तेमाल किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कैंप शुरू किए जाएं. उन्होंने कहा कि शिविरों में मास्क, सैनिटाइजर, पीने का पानी, दवाएं उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को बीमारी है और जिन्होंने वैक्सीन नहीं लिया है, उन्हें सावधानी बरतनी चाहिए। उधर, केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने भी जिले के निचले इलाकों में जलजमाव का आकलन करने के लिए पथानामथिट्टा कलेक्ट्रेट में एक समीक्षा बैठक की, जो पास के कोट्टायम जिले के समान बाढ़ जैसी स्थिति का सामना कर रहा है।

स्कूलों की छुट्टियां दो दिन और बढ़ीं

18 अक्टूबर से खुलने वाले राजकीय कॉलेज अब 20 अक्टूबर से ही शुरू होंगे। सरकार ने कॉलेजों की छुट्टियों को बढ़ा दिया है। 

राहुल गांधी ने ट्वीट कर संवेदना प्रकट की

वायनाड सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "मेरी संवेदनाएं केरल के लोगों के साथ हैं। कृपया सुरक्षित रहें और सभी सुरक्षा सावधानियों का पालन करें।"

यह भी पढ़ें:

भारत का कोविड के खिलाफ जंग: वर्ल्ड बैंक से लेकर आईएफएफ तक हुए मुरीद, बोले-इंडिया इज डूइंग वेल

पांच राज्यों में चुनाव के पहले अमित शाह ने की दिल्ली वाररूम में मीटिंग: यूपी सबसे बड़ी चुनौती, अजय मिश्र बनें गले की फांस!

गृह मंत्रालय और राज्यों में बढ़ेगी टकराहटबीएसएफ का बंगालपंजाब और असम में अधिकार क्षेत्र बढ़ा तो गुजरात में घटा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios