Asianet News HindiAsianet News Hindi

उद्धव ठाकरे के शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण पर कोर्ट ने कहा, यह नियमित सिलसिला नहीं होना चाहिए

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ हो चुका है।सूत्रों के हवाले से खबर सामने आ रही है कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम के तहत कांग्रेस के हाथ में 13 मंत्री का पद मिल सकता है। जिसमें 9 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री का पद हैं। वहीं, शिवसेना के हिस्से में 11 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री पद आ सकते हैं।

Maharashtra new government formation, Shivsena-Congress, NCP, congress deny to take Deputy CM
Author
Mumbai, First Published Nov 27, 2019, 1:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. उद्धव ठाकरे कल महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण का कार्यक्रम शिवाजी पार्क में किया जाएगा, लेकिन कार्यक्रम से एक दिन पहले हाई कोर्ट ने पार्क में आयोजन पर चिंता जताई है। कोर्ट ने कहा कि सार्वजनिक मैदानों पर इस तरह के कार्यक्रम नहीं होना चाहिए। ऐसा सिलसिला शुरू हुआ तो हर कोई इस तरह के कार्यक्रम के लिए मैदान को इस्तेमाल करना चाहेगा।

कैसे होगा मंत्रिमंडल का बंटवारा?

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ हो चुका है। इन तीनों पार्टियों ने 'महाराष्ट्र विकास अघाड़ी' सरकार के स्वरूप पर भी मंथन करना शुरू कर दिया है। लेकिन अभी तक किसी भी पार्टी ने कॉमन मीनिमम प्रोग्राम के बारे में तो कुछ नहीं बताया है। लेकिन सूत्रों के हवाले से खबर सामने आ रही है कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम के तहत कांग्रेस के हाथ में 13 मंत्री का पद मिल सकता है। जिसमें 9 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री का पद हैं। वहीं, शिवसेना के हिस्से में 11 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री पद आ सकते हैं। इसके अलावा कांग्रेस-एनसीपी के बीच गृह और राजस्व विभाग को लेकर भी बात चल रही है।

एनसीपी को मिलेगा डिप्टी सीएम

सूत्रों की माने तो तीनों दलों के एक साथ आने के बाद पदों के बंटवारे को लेकर मंथन का दौर जारी है।  कहा जा रहा कि शिवसेना को सीएम का पद देने के एवज में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को गृह विभाग मिल सकता है। वहीं, कांग्रेस को राजस्व विभाग देने पर सहमति बन गई है। सूत्रों ने बताया कि एनसीपी को डिप्टी सीएम पद भी मिलेगा। एनसीपी की तरफ से जयंत पाटिल को डिप्टी सीएम बनाए जाने की बात कही जा रही है, जबकि कांग्रेस ने डिप्टी सीएम पद लेने से इनकार कर दिया है। 

इन नेताओं को मिल सकती है जिम्मेदारी 

एक मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो शिवसेना के 8 और कांग्रेस-एनसीपी से 9-9 नेताओं को मंत्री पद मिल सकता है। शिवसेना की तरफ से मंत्री पद के लिए एकनाथ शिंदे, दिवाकर रावते, सुभाष देसाई, अब्दुल सत्तार, रामदास कदम, तानाजी सावंत, दीपक केसरकर, गुलाबराव पाटिल का नाम सबसे आगे है। वहीं, कांग्रेस के अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण, बाला साहेब थोराट, विजय वडेट्टीवार, केसी पाडवी, विश्वजीत कदम, यशोमती ठाकुर, सतेज बंटी पाटिल, सुनील केदार मंत्री बनाए जा सकते हैं। जबकि एनसीपी से धनंजय मुंडे, जितेंद्र आव्हाड, जयंत पाटिल, छगन भुजबल, हसन मुश्रीफ, अनिल देशमुख, दिलीप पाटिल, मकरंद पाटिल और राजेश टोपे को भी सरकार में अहम जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios