Asianet News Hindi

नीति आयोग की बैठक में ममता के शामिल होने पर सस्पेंस, कल होने वाली बैठक में मोदी करेंगे अध्यक्षता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक छोड़ सकती हैं। 20 फरवरी को पीएम मोदी बैठक की अध्यक्षता करेंगे। यह सेंट्रल की थिंक टैंक बॉडी है, जिसमें सीएम और लेफ्टिनेंट गवर्नर शामिल हैं। बैठक में कृषि, बुनियादी ढांचे, विनिर्माण और मानव संसाधन विकास से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

Mamta Banerjee may not attend NITI Aayog meeting kpn
Author
New Delhi, First Published Feb 19, 2021, 4:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक छोड़ सकती हैं। 20 फरवरी को पीएम मोदी बैठक की अध्यक्षता करेंगे। यह सेंट्रल की थिंक टैंक बॉडी है, जिसमें सीएम और लेफ्टिनेंट गवर्नर शामिल हैं। बैठक में कृषि, बुनियादी ढांचे, विनिर्माण और मानव संसाधन विकास से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

गवर्निंग काउंसिल की सालाना बैठक होती है और इसकी पहली बैठक 8 फरवरी, 2015 को हुई थी। हालांकि, पिछले साल कोविड -19 महामारी के कारण बैठक नहीं हुई थी।

20 फरवरी को 10.30 बजे है बैठक
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 20 फरवरी को सुबह 10.30 बजे होने वाली नीति आयोग की प्रशासनिक परिषद की छठी बैठक की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक के एजेंडे में कृषि, अवसंरचना, विनिर्माण, मानव संसाधन विकास, जमीनी स्तर पर सेवाओं की आपूर्ति और स्वास्थ्य व पोषण पर विचार विमर्श शामिल है।

प्रशासनिक परिषद अंतर क्षेत्रीय, अंतर विभागीय और संघीय मुद्दों पर विचार के लिए एक मंच उपलब्ध कराता है। इसमें प्रधानमंत्री, राज्यों और संघ शासित क्षेत्रों (यूटी) के मुख्यमंत्रियों के साथ ही अन्य यूटी की विधायिकाएं और उप राज्यपाल शामिल होते हैं। छठी बैठक में पहली बार लद्दाख को प्रवेश मिलेगा। इसके अलावा जम्मू व कश्मीर की यूटी के रूप में भागीदारी होगी।

इस बार, प्रशासकों की अध्यक्षता वाले अन्य यूटी को भी शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। बैठक में प्रशासनिक परिषद के पदेन सदस्य, केन्द्रीय मंत्री, उपाध्यक्ष, सदस्य और नीति आयोग के सीईओ व भारत सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल होंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios