Asianet News Hindi

मोदी से मीटिंग के बाद भड़कीं ममता बनर्जी, कहा, लॉकडाउन पर विपरीत बयान, कई लोगों को तो बोलने नहीं दिया गया

पीएम मोदी से मीटिंग के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भड़ग गईं। उन्होंने कहा, वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई मीटिंग में कई लोगों को बोलने नहीं दिया गया। एक तरफ केंद्र सरकार कहती है कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाए। दूसरी तरफ दुकानें खोलने का आदेश देती है।

Mamta Banerjee said that Modi government is not taking right decisions on lockdown kpn
Author
New Delhi, First Published Apr 27, 2020, 9:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पीएम मोदी से मीटिंग के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भड़ग गईं। उन्होंने कहा, वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई मीटिंग में कई लोगों को बोलने नहीं दिया गया। एक तरफ केंद्र सरकार कहती है कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाए। दूसरी तरफ दुकानें खोलने का आदेश देती है। अगर दुकानें खोल देंगे तो लॉकडाउन का पालन कैसे होगा?  

"मौका मिलता तो कई सवाल पूछतीं"
ममता बनर्जी ने कहा, अगर मौका मिलता तो कई मुद्दों पर सवाल पूछती। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को लेकर केंद्र सरकार बिपरीत बयान दे रही है। केंद्र सरकार अचानक सर्कुलर जारी जारी कर रही है। मुझे उससे कोई दिक्कत नहीं है लेकिन कुछ तो सलाह मशविरा होना चाहिए। उन्हें राज्यों की स्थिति के बारे में भी पूछना चाहिए।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की बड़ी बातें
1- लॉकडाउन: पीएम मोदी ने बैठक में मुख्यमंत्रियों से कहा कि लॉकडाउन लोगों की जान बचाने के लिए अहम रहा। इससे हमें काफी फायदा हुआ। लॉकडाउन से हजारों लोगों की जान बचाने में हम सफल रहे। उन्होंने कहा, दूसरे देशों की तुलना में कोरोना का असर भारत में कम रहा।
2- कोरोना: पीएम ने कहा, मार्च की शुरुआत में भारत भी अन्य देशों के बराबर ही खड़ा था। लेकिन वक्त रहते कदम उठाने के चलते हम कामयाब हुए। हालांकि, उन्होंने कहा, कोरोना वायरस अभी गया नहीं है। आने वाले महीनों में भी कोरोना का संकट रहेगा। मास्क और चेहरे को कवर करना हमारी जिंदगी का हिस्सा बन जाएगा। अभी और निगरानी की जरूरत है। हालांकि, उन्होंने राज्यों से कहा, जिन राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, यह अपराध नहीं है। बढ़ते हुए मामलों को देखकर दबाव में ना आए। पूरी देश इस चुनौती का सामना कर रहा है। हमें हिम्मत रखकर सुधार लाने पर जोर देना होगा।
3- अर्थव्यवस्था: लॉकडाउन पर चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने कहा, हमें अर्थव्यवस्था को भी अहमियत देनी होगी। उन्होंने कहा, अर्थव्यवस्था की हालत ठीक है। अभी घबराने की जरूरत नहीं है। ऑरेंज और ग्रीन जोन में छूट दी जा सकती है। लेकिन हमें साथ साथ कोरोना से भी निपटना होगा।
4- विदेशों में फंसे भारतीय: पीएम की मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा में विदेशों में फंसे भारतीयों की वापसी पर भी बात हुई। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, हमें ध्यान रखना होगा कि उन्हें किसी तरह की असुविधा ना हो और उनकी वापसी पर उनके परिवार को किसी तरह के खतरे का सामना ना करना पड़े।
5- हॉटस्पॉट: पीएम मोदी ने राज्यों से अपील की कि वे हॉटस्पॉट और रेड जोन वाले क्षेत्रों में लॉकडाउन पर सख्ती लागू करें। उन्होंने कहा कि राज्यों को कोशिश करनी चाहिए कि रेड जोन को पहले ऑरेंज जोन में और फिर उसे ग्रीन जोन में बदला जाए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios